भारतीय मूल की दो अमेरिकी महिलाओं को इसलिए सर्वश्रेष्ठ महिलाओं की सूची में मिली जगह

कमला हैरिस तमाम बाधाओं को तोड़ते हुए वह अमेरिका की दूसरी सबसे शक्तिशाली पद पर चुनकर पहुंची हैं। रूपाली देसाई आज एक हाई-प्रोफाइल राजनीति और चुनाव कानून की वकील के रूप में काम करती हैं। उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के दौरान झूठे दावे को लेकर सफलतापूर्वक मुकदमे लड़े।

भारतीय मूल की दो अमेरिकी महिलाओं को इसलिए सर्वश्रेष्ठ महिलाओं की सूची में मिली जगह

भारतीय मूल की दो अमेरिकी महिलाओं उपराष्ट्रपति कमला हैरिस और रूपाली देसाई को यूएसए टुडे अखबार ने वर्ष की सर्वश्रेष्ठ महिलाओं की सूची में शामिल किया है।

कमला हैरिस भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक हैं। उनकी मां श्यामा गोपालन हैरिस का जन्म चेन्नई में हुआ था और वह एक कैंसर शोधकर्ता थीं। 

रंगभेद की दीवार को तोड़ते हुए कमला हैरिस ने जो मुकाम हासिल किया है, उसके लिए उन्हें यह सम्मान दिया गया है। वहीं, विविध क्षेत्रों में समाजसेवा और 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए रूपाली देसाई को जगह दी गई है।