नोबल शांति विजेता कैलाश सत्यार्थी को संयुक्त राष्ट्र से मिला यह विशेष सम्मान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के अनुसार बाल मजदूरी को समाप्त करने और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के अधिकारों की रक्षा के अग्रणी नेता के रूप में सत्यार्थी को विशेष रूप से चुना गया। बाल अधिकारों के लिए मैं सत्यार्थी की अटूट प्रतिबद्धता की सराहना करता हूं।

नोबल शांति विजेता कैलाश सत्यार्थी को संयुक्त राष्ट्र से मिला यह विशेष सम्मान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भारतीय नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी को सतत विकास लक्ष्य 2030 एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्य (Sustainable Development Goals-SDG) अधिवक्ता के रूप में नियुक्त किया है।

Serious Indian School Kid
गुटेरेस ने कहा कि बाल मजदूरी को समाप्त करने और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के अधिकारों की रक्षा के अग्रणी नेता के रूप में सत्यार्थी को विशेष रूप से चुना गया। Photo by jaikishan patel / Unsplash

गुटेरेस ने कहा कि बाल मजदूरी को समाप्त करने और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के अधिकारों की रक्षा के अग्रणी नेता के रूप में सत्यार्थी को विशेष रूप से चुना गया। बाल अधिकारों के लिए मैं सत्यार्थी की अटूट प्रतिबद्धता की सराहना करता हूं। यह जरूरी है कि हम एक साथ आएं और एसडीजी यानी सतत विकास लक्ष्यों की दिशा में वैश्विक प्रयासों में तेजी लाने के लिए एक दूसरे का समर्थन करें।