विदेश में नौकरी का प्रस्ताव, नहीं गए, चाय बेचनी शुरू की, हो गए कामयाब

बिजित शर्मा ने कहा कि फिलहाल हमारे पास 60 से ज्यादा वैराइटी की चाय हैं। इनमें ग्रीन टी, ब्लैक टी, वाइट टी, मसाला टी, रोज ब्लैक टी, लीची टी, इंग्लिश ब्रेकफास्ट टी जैसे प्लेवर शामिल हैं। 200 रुपये से इसकी शुरुआत होती है।

विदेश में नौकरी का प्रस्ताव, नहीं गए, चाय बेचनी शुरू की, हो गए कामयाब

भारत के उत्तर पूर्वी राज्य असम के रहने वाले बिजित शर्मा ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। उनका कैंपस प्लेसमेंट भी हुआ और एक मल्टीनेशनल कंपनी की तरफ से बढ़िया पैकेज भी मिल रहा था, लेकिन विदेश में मिल रही नौकरी करने की बजाय उन्होंने खुद का कुछ करने का फैसला किया। अब वह असम की चाय का स्टार्टअप चला रहे हैं। पिछले साल उनका टर्नओवर 30 लाख रुपए था और इस बार 50 लाख रुपये टर्नओवर का लक्ष्य है।

बिजित अब असम की चाय का स्टार्टअप चला रहे हैं।

26 साल के बिजित की शुरुआती पढ़ाई-लिखाई असम में हुई। हरियाणा से उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। इसके बाद उन्हें एक मल्टीनेशनल कंपनी से बढ़िया ऑफर भी मिला, विदेश में काम करना था, लेकिन उन्होंने नौकरी जॉइन नहीं की और अपना काम शुरू किया। आज उनके साथ 200 से ज्यादा टी वर्कर्स जुड़े हैं। भारत सहित विदेशों में वे मार्केटिंग कर रहे हैं। हर महीने 3 हजार ऑर्डर्स आ रहे हैं।