शुभ घड़ी आई रे: मोदी-योगी से लेकर पूरा भारत हो गया योग के आगे नतमस्तक

योग दिवस का विचार पहली बार 2014 में पीएम नरेंद्र मोदी का था। योग का पहला अंतरराष्ट्रीय दिवस साल 2015 में 21 जून को मनाया गया। यह दिन संयुक्त राष्ट्र द्वारा मान्यताप्राप्त है। पूरे भारत में योग का नाद गूंजा। जाति-धर्म से ऊपर उठकर लोगों ने योग किया और गर्व किया कि भारत की पहल पर पूरा विश्व योगमय है।

शुभ घड़ी आई रे: मोदी-योगी से लेकर पूरा भारत हो गया योग के आगे नतमस्तक

भारत और दुनिया भर में आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। भारत में योग दिवस 75 हेरिटेज और आइकॉनिक साइटों पर किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैसूर में योग दिवस समारोह की अगुवाई की तो विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ​नई दिल्ली स्थित पुराना किला के परिसर में विभिन्न देशों के राजनयिकों के साथ योग किया। योग दिवस का विचार पहली बार वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रस्तावित किया गया था। योग का पहला अंतरराष्ट्रीय दिवस साल 2015 में 21 जून को मनाया गया था। यह दिन संयुक्त राष्ट्र द्वारा मान्यता प्राप्त है।

आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने मैसूर पैलेस ग्राउंड में किया योग।
17,000 फुट की उंचाई पर हिमालय की गौद में योग करते भारत के हिमवीर ITBP के जवान।
इतनी ऊंचाई पर जवानों द्वारा किया गया योग उन्हें आत्मिक शक्ति प्रदान करता है। 
प्रशांत महासागर में इंटरनेशनल डेटलाइन के पास मौजूद आईएनएस सतपुरा पर योग करते भारतीय नौसेना के जवान।
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के राजभवन में योग करते उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
नई दिल्ली में पुराना किला परिसर में योग करते भारत के विदेशमंत्री एस जयशंकर। जयशंकर ने कई राजनयिकों समेत अंतरराष्ट्रीय छात्रों के साथ योग किया।
गुजरात में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी परिसर में भारत के स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडविया ने योग दिवस समारोह का नेतृत्व किया।
नई दिल्ली के प्रतिष्ठित जंतर मंतर पर योग करतीं भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
आस्ट्रेलिया के उप प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री रिचर्ड मार्ले योग करते हुए। मार्ले ने भारत के रक्षामंत्री को इस तस्वीर के साथ ट्विटर पर टैग किया।
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योग करतीं बॉलीवुड कलाकार और सांसद हेमा मालिनी।