दुबई के शेख का नौकर अश्लीलता के आरोप में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि आरोपी का दावा है कि वह महिला को नहीं जानता और उसने महिला के शुरुआती संदेशों का जवाब देने के बाद उसे अश्लील संदेश और वीडियो भेजना शुरू किया था। पुलिस ने बताया कि आरोपी साहजेब अली उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले का रहने वाला है और दुबई में एक शेख के घर घरेलू नौकर के तौर पर काम करता है।

दुबई के शेख का नौकर अश्लीलता के आरोप में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार

दुबई में एक शेख के घर पर घरेलू नौकर के तौर पर काम करने वाले एक भारतीय को वतन वापसी के तुरंत बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। भारत के राज्य उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के रहने वाले 30 वर्षीय साहजेब अली पर आरोप हैं कि उसने एक महिला को अश्लील मैसेज किए और मना करने के बावजूद उसको लगातार परेशान किया। पुलिस ने बताया कि अली को दुबई से दिल्ली लौटने के बाद एयरपोर्ट से ही गिरफ्तार कर लिया गया था जिसके बाद उसे एक अदालत में पेश किया गया और फिर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

शिकायत के बाद आरोपी के खिलाफ मानेसर के महिला पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की।

पुलिस ने बताया कि आरोपी साहजेब अली उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले का रहने वाला है और दुबई में एक शेख के घर घरेलू नौकर के तौर पर काम करता है। 1 फरवरी को एक महिला द्वारा शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस ने उसकी जांच शुरू कर दी थी जिसमें आरोप लगाया गया था कि महिला को अली से अश्लील संदेश मिल रहे थे और महिला को बार बार परेशान किया जा रहा था।

मानेसर की रहने वाली पीड़िता महिला ने बताया कि सबसे पहले मुझे आरोपी अली के नंबर से अपने व्हाट्सएप नंबर पर एक मैसेज मिला जिसके बाद उसने वीडियो कॉल किया और अश्लील मैसेज और वीडियो भेजने लगा। मैंने उसे इस बकवास को रोकने के लिए कहा लेकिन वह नहीं माना जिसके बाद मैं पुलिस के पास शिकायत के लिए गई।

शिकायत के बाद आरोपी के खिलाफ मानेसर के महिला पुलिस स्टेशन ने आईपीसी की धारा 354 डी (पीछा करना) और आईटी अधिनियम की धारा 67 के तहत प्राथमिकी दर्ज की। जांच के दौरान पता चला कि आरोपी दिल्ली से दुबई गया हुआ था। इसके बाद पुलिस ने उसके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (LOC) जारी किया। पुलिस ने उसे हवाईअड्डे पर पकड़ा जब हवाईअड्डा अधिकारियों ने उन्हें सूचित किया कि वह रविवार को दुबई से लौट रहा है।

मानेसर के महिला पुलिस थाने की एसएचओ आरती ने कहा कि आरोपी का दावा है कि वह महिला को नहीं जानता और उसने महिला के शुरुआती संदेशों का जवाब देने के बाद उसे अश्लील संदेश और वीडियो भेजना शुरू किया था।