तनाव-थकान से चाहिए राहत तो 'सुगंधित' हो जाइए, तुरंत मिलेगा आराम

भारतीय संस्कृति में खुशबुओं का महत्व प्राचीन काल से चला आ रहा है। भारत में सुंगधों और सुगंधित तेलों का उपयोग किया जाता है। तनाव और थकान को दूर करने के लिए अब एरोमाथेरेपी का चलन भी खूब बढ़ा है। इससे दिमाग की काम करने की क्षमता बढ़ती है और प्रतिरक्षा तंत्र भी मजबूत होता है।

तनाव-थकान से चाहिए राहत तो 'सुगंधित' हो जाइए, तुरंत मिलेगा आराम
Photo by Erriko Boccia / Unsplash

ऑफिस से काम कर के थक कर घर आएं और जल्दी रिलैक्स करना चाहते हों तो खुशबू इसमें बड़ा काम कर सकती है। जब हम बहुत थके होते हैं तो अच्छी खुशबू हमारे शरीर को राहत देती है।

तनाव और थकान को दूर करने के लिए अब एरोमाथेरेपी का चलन भी खूब बढ़ा है। एरोमाथेरेपी का मतलब है सुगंध से चिकित्सा। Photo by Richárd Ecsedi / Unsplash

भारतीय संस्कृति में खुशबुओं का महत्व प्राचीन काल से चला आ रहा है। वैसे भी आपने महसूस किया होगा कि अगर चंदन या किसी बहुत सुगंधित फूल को हम सूंघते हैं तो हमारा मन बहुत शांत हो जाता है। ऐसी कई वस्तुएं आपके घर में भी मौजूद हो सकती हैं, जिनकी खुशबू आपको थकान से आराम पहुंचा सकती है।