सिंगापुर: किस जुर्म में मिली भारतीय मूल की महिला को 16 महीने की कैद?

यह फैसला सुनाते हुए जज ने कहा कि सामाजिक और परिवार विकास मंत्रालय को धोखा देने की उसकी कोशिश की वजह से करदाताओं की मेहनत से कमाई गई धनराशि का नुकसान होता।

सिंगापुर: किस जुर्म में मिली भारतीय मूल की महिला को 16 महीने की कैद?
Photo by Ye Jinghan / Unsplash

सिंगापुर में भारतीय मूल की एक महिला को  16 महीने कैद की सजा सुनाई गई है। अदालत ने कहा कि सरकार के साथ धोखाधड़ी करने के उसके प्रयास से कोविड-19 समर्थन अनुदान के लिए करदाताओं के पैसों का नुकसान होता। बता दें कि इस महिला का नाम राजगोपाल मालिनी (46) है और उसने इस अपराध को पिछले साल जुलाई से सितंबर के बीच अंजाम दिया था।

मालिनी के वकील ने दलील दी कि उसका परिवार समृद्ध नहीं है और उसे अपने परिवार के लिए वस्तुएं खरीदनी थीं।

उसने कोविड समर्थन अनुदान के तहत धनराशि प्राप्त करने की कोशिश के तहत नौकरी से निकाले जाने का एक फर्जी प्रमाणपत्र भी बनवाया था। मालिनी ने अपनी कंपनी के निवासियों से रखरखाव शुल्क के रूप में चार हजार सिंगापुरी डॉलर लिए थे। इसके साथ ही उसने एक चोरी के क्रेडिट कार्ड से अपने बच्चों और उनके दोस्तों के लिए 13,500 सिंगापुरी डॉलर की खरीदारी भी की थी।