यौन शोषण में लिप्त भारतीय मूल के शख्स को जेल, क्यों शिकार हो रहे बच्चे

अदालती दस्तावेज के अनुसार चोपड़ा ने बोस्टन से मिनियापोलिस जाने वाले ‘जेट ब्लू’विमान में पास की सीट पर बैठे 16 साल के लड़के का यौन शोषण किया था। बाल यौन शोषण के शिकार लोगों द्वारा वर्षों बाद अपने साथ हुए दुराचार पर मुकदमे चलाने के कानून बनाए गए हैं। ऐसे में कई और दबे मामले सामने आ रहे हैं।

यौन शोषण में लिप्त भारतीय मूल के शख्स को जेल, क्यों शिकार हो रहे बच्चे

घर हो या कोई सार्वजनिक जगह, बच्चे आज सबसे असुरक्षित हो गए हैं। बच्चों के साथ यौन उत्पीड़न की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। ऐसे ही एक मामले में अमेरिका में भारतीय मूल के एक व्यक्ति को 2019 में एक विमान में अपने पास बैठे एक नाबालिग लड़के का यौन शोषण करने के आरोप में 15 महीने की जेल की सजा सुनाई गई है।

अमेरिका के न्याय विभाग की ओर से जारी बयान के अनुसार, जिला न्यायाधीश नैन्सी ई. ब्रासेल ने मिनियापोलिस के रहने वाले भारतीय मूल के नीरज चोपड़ा को बोस्टन से मिनियापोलिस की उड़ान के दौरान विमान में एक लड़के का यौन शोषण करने का दोषी पाया है। तीन दिन चली सुनवाई के बाद पिछले साल जुलाई में चोपड़ा को दोषी ठहराया गया था। अदालत के दस्तावेज के अनुसार चोपड़ा ने अप्रैल 2019 में बोस्टन से मिनियापोलिस जाने वाले ‘जेट ब्लू’विमान में पास की सीट पर बैठे 16 साल के लड़के का यौन शोषण किया था।