लंदन में अवैध हथियार रखने पर भारतीय युवा को मिली छह वर्ष की जेल

संधू ने पूछताछ में बताया कि उसके पास केवल दो से तीन सप्ताह के लिए यह सामान था जिसे उसने एक अज्ञात व्यक्ति के आदेश पर रखा हुआ था। हालांकि जब संधू के मोबाइल फोन रिकॉर्ड की जांच की गई तो पता चला कि वह सामान संधू का ही था।

लंदन में अवैध हथियार रखने पर भारतीय युवा को मिली छह वर्ष की जेल

भारतीय मूल के एक व्यक्ति को लंदन में अपने घर में एक प्रतिबंधित बंदूक छुपाने के अपराध में छह साल के कारावास की सजा सुनाई गई है। पवनदीप संधू नाम के इस शख्स के घर में बनी अलमारी की निचली दराज में प्रतिबंधित बंदूक मिली थी, जिसके बाद पूर्वी लंदन के स्नेरेसब्रुक क्राउन कोर्ट ने यह सजा दी है।

1 जुलाई को संधू पर बंदूक रखने के आरोप तय हुए और 13 अगस्त को स्नेरेसब्रुक क्राउन कोर्ट में सुनवाई के दौरान उसे दोषी ठहराया गया और अब जाकर उसे छह साल की सजा सुनाई गई है।

पवनदीप संधू की उम्र 21 वर्ष है। मामल 30 जून का है जब संधू को पूर्वी लंदन के इलफोर्ड में सेवन किंग्स पार्क में मेट्रोपॉलिटन पुलिस अधिकारियों ने हिरासत में लिया था। तलाशी लेने पर उसके पास से 492 ब्रिटिश पाउंड नकद, एक आईफोन 8, एक कार की चाबी और अन्य निजी सामान बरामद हुआ था। हालांकि जहां संधू खड़ा था वहां एक छुरी और दो लॉक वाले चाकू पड़े हुए थे। संधू पर शक होने के बाद पुलिस अधिकारियों ने संधू के घर की तलाशी के लिए वारंट जारी किया। बेडरूम की तलाशी में पुलिस को सिंगल बैरल और 12-बोर वाली फोल्डिंग शॉटगन भी मिली थी।