न्यूयॉर्क में सुमित ने कुछ ऐसा क्या कर दिया कि बन गए अमेरिका के ‘हीरो’

महिला के 47 वर्षीय बेटे लॉशॉन मैक्निल ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इसके बाद सुमित सुलन तुरंत हरकत में आ गए। उन्होंने बिना देर किए लॉशॉन मैक्निल पर जवाबी हमला किया और गोली मारकर अपराधी को गंभीर रूप से घायल कर दिया। हालांकि इस बीच लॉशॉन मैक्निल की चलाई गोली से रिवेरा की मौत हो गई और मोरा घायल हो गए।

न्यूयॉर्क में सुमित ने कुछ ऐसा क्या कर दिया कि बन गए अमेरिका के ‘हीरो’

अमेरिका के न्यूयॉर्क में भारतीय मूल के 27 साल के पुलिस अधिकारी सुमित सुलन की हर तरफ प्रशंसा हो रही है। उन्हें ‘हीरो’ बताया जा रहा है। सुमित ने गोली मारकर उस अपराधी को मार गिराया जिसने एक पुलिसकर्मी की हत्या कर दी और एक अन्य पुलिसकर्मी को गंभीर रूप से घायल कर दिया। पुलिसकर्मियों पर हमला उस वक्त हुआ जब वे घरेलू हिंसा की जांच करने न्यूयॉर्क शहर के पास स्थित हार्लेम पहुंचे थे। हालांकि इस हमले में अपने एक साथी की मौत और दूसरे के घायल होने से सुमित मानसिक तौर पर पूरी तरह से हिल गए हैं। लेकिन सुलन की मां दलवीर सुलन (60) को अपने जांबाज बेटे पर गर्व है। सुलन करीब 15 साल पहले भारत से अमेरिका पहुंचे थे।

दरअसल, घरेलू हिंसा को लेकर न्यूयॉर्क पुलिस के पास शुक्रवार शाम करीब पांच बजे एक महिला की कॉल आई थी। महिला को अपने बेटे के साथ विवाद पर मदद की जरूरत बताई गई। इसके बाद तीन अधिकारी सुमित सुलन (27), जैसन रिवेरा (22) और विल्वर्ड मोरा (27) हार्लेम के 135 वीं स्ट्रीट पर ग्राउंड फ्लोर अपार्टमेंट में पहुंचे। इस दौरान एक कमरे में सुमित सुलन महिला जानकारी ले रहे थे। वहीं, रिवेरा और मोरा पीछे के कमरे में गए जहां उनका बेटा था।