कुछ तो बात है: एक और भारतीय मूल के शख्स को विदेशी कंपनी ने बनाया CEO

विपुल इससे पहले यूनीलीवर में भी अहम भूमिका में रह चुके हैं। यूनीलीवर कंपनी में वह करीब 19 साल तक काम कर चुके हैं। इससे पहले वह 2018 से पिज्जा हट इंटरनेशनल के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। अमेरिका से वह 100 देशों में कंपनी के कारोबार पर नजर रखते थे।

कुछ तो बात है: एक और भारतीय मूल के शख्स को विदेशी कंपनी ने बनाया CEO

कारोबार की दुनिया में भारत की प्रतिभा का लोहा आज पूरी मानती है। दुनिया की कई ऐसी कंपनियां है जिनके संचालन का जिम्मा आज किसी न किसी भारतीय के हाथों में है। इसी कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है भारतीय मूल के विपुल चावला का। भारतीय मूल के कारोबारी विपुल चावला को सिंगापुर फेयर प्राइस ग्रुप का नया सीईओ बनाया गया है। इस कंपनी का सीईओ बनने से पहले विपुल दुनिया की कई नामी कंपनियों के साथ काम कर चुके हैं। इनमें हिंदुस्तान यूनीलीवर और पिज्जा का नाम प्रमुख है।

फेयर प्राइस ग्रुप की तरफ से बताया गया है कि कंपनी पूरे देश में सुपरमार्केट फूड चेन को संभालने का काम करती है। कंपनी की सालाना कमाई करीब 16 अरब रुपये का है। फेयर प्राइस और राष्ट्रीय ट्रेड यूनियन कांग्रेस इंटरप्राइजेज की तरफ से बताया गया है कि विपुल इस साल 5 अप्रैल को कंपनी के सीईओ सी कियान पेंग की जगह लेंगे। विपुल चावला ने प्रबंधन में मास्टर की डिग्री हासिल की है। उन्होंने बॉम्बे यूनिवर्सिटी के एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च से प्रबंधन में डिग्री हासिल की है।