लंदन की लेखिका मंजीत के उपन्यास को इसलिए मिला यह प्रतिष्ठित मेडल

'द क्रॉसिंग' मंजीत मान का दूसरा उपन्यास है। हाल ही में 'द क्रॉसिंग' ने 2022 कोस्टा चिल्ड्रन बुक अवॉर्ड जीता है। जजों ने माना के उपन्यास को मानवता की मार्मिक कहानी के रूप में वर्णित किया है।

लंदन की लेखिका मंजीत के उपन्यास को इसलिए मिला यह प्रतिष्ठित मेडल

लंदन में रहने वाली भारतीय मूल की लेखिका मंजीत मान को उनकी बच्चों की किताब 'द क्रॉसिंग' के लिए ब्रिटेन के प्रतिष्ठित योटो कार्नेगी मेडल के लिए चुना गया है। यह सम्मान सालाना एक ऐसे लेखक को दिया जाता है जिसका लेखन बच्चों या युवाओं के लिए एक उत्कृष्ट पढ़ने का अनुभव बनाता है। पुस्तक ने पहले कोस्टा चिल्ड्रन बुक अवार्ड 2022 भी जीता है और इसे वाटरस्टोन्स बुक प्राइज 2022 के लिए भी चुना गया है।

इतना ही नहीं उन्होंने CILIP कार्नेगी शैडोर्स च्वाइस अवार्ड, द यूकेएलए अवार्ड, डाइवर्स बुक अवार्ड और शेफील्ड चिल्ड्रन बुक अवार्ड सहित कई खिताब जीते। यह 2020 की गार्जियन बेस्ट बुक भी थी। यह किताब एक शरणार्थी के साथ एक छोटी लड़की की दोस्ती की कहानी है। मंजीत एक लेखिका, अभिनेत्री और नाटककार भी हैं। मान को उनके पहले बच्चों के उपन्यास 'रन, रिबेल' के लिए कार्नेगी मेडल 2021 के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया था।

जजों ने माना के उपन्यास को मानवता की मार्मिक कहानी के रूप में वर्णित किया है। मंजीत मान ने इस पर खुशी जताई है। चुनी गई अन्य सात पुस्तकों में कात्या बालन द्वारा रचित 'अक्टूबर-अक्टूबर', सू डिविन द्वारा 'गार्ड योर हार्ट', फिल अर्ल द्वारा 'व्हेन द स्काई फॉल्स', बोनी-सू हिचकॉक द्वारा 'एवरीबॉडी डाइज फेमस इन ए स्मॉल टाउन', जूलियन सेडविक द्वारा 'सुनामी गर्ल', एलेक्स व्हीटल द्वारा 'केन वॉरियर्स' और इबी ज़ोबोई और युसेफ सलाम द्वारा 'पंचिंग द एयर' शामिल हैं।