पिछले साल ही गए थे नई बिल्डिंग में, आग ने छीन ली अब्दुल हदी की जिंदगी

परिवार के लोगों का कहना है कि उन्होंने भारत के विदेश मंत्रालय से सहायता के लिए संपर्क स्थापित किया है। वहीं हैदराबाद के एक स्थानीय नेता अमजद उल्ला खान ने ट्वीट करते हुए पीड़ित की पूरी जानकारी भारत के विदेश मंत्रालय से साझा की है।

पिछले साल ही गए थे नई बिल्डिंग में, आग ने छीन ली अब्दुल हदी की जिंदगी
Photo by Jen Theodore / Unsplash

नीदरलैंड के हेग शहर में एक अपार्टमेंट में आग लगने की वजह से भारतीय मूल के 43 साल के युवक अब्दुल हदी की मौत हो गई। वह भारत के हैदराबाद स्थित आसिफ नगर के रहने वाले थे। आग लगने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 24 घंटे तक वह मौत से लड़ते रहे। आखिरकार डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हदी पिछले साल ही अपनी छुट्टियों में भारत गए थे। इसके बाद मार्च 2021 में वापस हॉलैंड लौट गए थे।

अब्दुल हदी साल 2015 से पुर्तगाल के स्थायी नागरिक थे। वह पिछले साल 2021 में ही हॉलैंड के उसी बिल्डिंग में रहने के लिए गए थे, जहां आग की लपटों ने उनकी जिंदगी छीन ली। हैदराबाद में रहने वाले अब्दुल हदी के भाई अब्दुल कादिर ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि उनके भाई, जो बिल्डिंग की पहली मंजिल में रहते थे, उन्हें आग लगने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है।