स्कॉटलैंड के प्रवासियों की समस्याओं का इस मंदिर में निकलेगा समाधान!

दूतावास के अनुसार शिविर में हिस्सा लेने के लिए इच्छुक भारतीयों को 23 अप्रैल को ओम हिंदू मंदिर में सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच आना होगा। इस शिविर में शामिल होने के लिए नियुक्ति स्लॉट 'पहले आओ-पहले पाओ' के आधार पर आवंटित किए जाएंगे। यह काउंसलर शिविर केवल स्कॉटलैंड के निवासियों के लिए है।

स्कॉटलैंड के प्रवासियों की समस्याओं का इस मंदिर में निकलेगा समाधान!

स्कॉटलैंड में बसे भारतीय प्रवासियों के दस्तावेजों से जुड़ी समस्याओं के निपटारे के लिए राजधानी एडिनबर्ग स्थित भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने काउंसलर जर्नल ऐट यॉर डोरस्टेप नाम से एक शिविर का आयोजन करने का फैसला किया है। यह 23 अप्रैल को ग्लासगो के मशहूर ओ​म हिंदू मंदिर में आयोजित किया जाएगा। यह काउंसलर शिविर केवल स्कॉटलैंड के निवासियों के लिए है।

दूतावास से मिली जानकारी के मुताबिक इस शिविर में हिस्सा लेने के लिए इच्छुक भारतीयों को 23 अप्रैल के दिन ओम हिंदू मंदिर में सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच आना होगा। यहां भारतीय अपने पासपोर्ट, वीजा, ओसीआई कार्ड और अन्य दस्तावेजों के सत्यापन और समस्याओं को लेकर भी आ सकते हैं।

दूतावास ने बताया कि इस शिविर में शामिल होने के लिए नियुक्ति स्लॉट 'पहले आओ-पहले पाओ' के आधार पर आवंटित किए जाएंगे। यह काउंसलर शिविर केवल स्कॉटलैंड के निवासियों के लिए है। इच्छुक आवेदकों (केवल स्कॉटलैंड में निवास करने वाले) को इस अवसर का लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। यदि किसी शख्स को किसी वांछित सेवा के लिए नियुक्ति चाहिए तो वह cons.edinburgh@mea.gov.in पर एक ईमेल भेजकर अनुरोध कर सकते हैं।

काउंसल जनरल बिजय सेलवाराज ने बताया कि संभावित आवेदकों से अनुरोध है कि वह नियुक्ति स्लॉट के लिए पूछते समय अपने ईमेल में ग्लासगो में कांसुलर शिविर के लिए नियुक्ति का उल्लेख करें और अपने घर के पते के प्रमाण की एक प्रति भी संलग्न करें। आवेदकों को नियत समय में वाणिज्य दूतावास द्वारा ईमेल पर नियुक्ति स्लॉट के लिए सूचित किया जाएगा और 23 अप्रैल को कांसुलर शिविर का दौरा करते समय वांछित सेवा के लिए आवेदन के साथ उसी का एक प्रिंटआउट संलग्न करना आवश्यक होगा।