उपलब्धि: फोर्ड के गैर इलेक्ट्रिक वाहनों के बाजार को गति देंगे भारत के कुमार

कुमार गल्होत्रा का जन्म भारत के पंजाब में दिसंबर 1965 में हुआ था। अमेरिका जाने से पहले उनका जीवन भारत की गलियों में खेल कूदकर बीता। अपनी शुरुआती पढ़ाई के बाद वह अमेरिका चले गए। जहां उन्होंने मिशिगन विश्वविद्यालय से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी की।

उपलब्धि: फोर्ड के गैर इलेक्ट्रिक वाहनों के बाजार को गति देंगे भारत के कुमार

भारतीय बाजार को पिछले साल छोड़ने की घोषणा कर चुकी अमेरिकन ऑटोमोबाइल कंपनी फोर्ड ने भारतीय मूल के एक प्रतिभावान इंजीनियर कुमार गल्होत्रा को कंपनी के ग्लोबल प्रेसिडेंट के पद पर नियुक्त किया है। भारत के पंजाब में जन्मे गल्होत्रा को गैर इलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल व्यवसाय ‘फोर्ड ब्लू’ की कमान सौंपी गई है। इस सेक्टर में कंपनी की सालाना कमाई 100 अरब डॉलर (76,88,57,00,00,000 रुपये) के करीब है। कुमार कंपनी के अध्यक्ष और सीईओ जिम फॉरले को रिपोर्ट करेंगे।

इस नियुक्ति से पहले कुमार गल्होत्रा फोर्ड मोटर कंपनी के अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय बाजार समूह के अध्यक्ष थे। Photo : Media.ford.com

इस नियुक्ति से पहले कुमार गल्होत्रा फोर्ड मोटर कंपनी के अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय बाजार समूह के अध्यक्ष थे। इस भूमिका में वह कंपनी को किस तरह से मुनाफा हो सकता है, इस पर काम कर रहे थे। इससे पहले गल्होत्रा फोर्ड के उत्तरी अमेरिका के अध्यक्ष के रूप में भी काम कर चुके हैं। इस पद के लिए उनका चुनाव साल 2018 में हुआ था। उस वक्त गल्होत्रा ने उत्तरी अमेरिका में कंपनी के व्यवसाय को काफी आगे बढ़ाया और उसे एक नए मुकाम तक ले गए। इससे पहले साल 2017 में गल्होत्रा को कंपनी के लिंकलोन समूह के उपाध्यक्ष के साथ फोर्ड मोटर कंपनी के मुख्य बाजार अधिकारी के पद पर कमान दी गई थी।