राष्ट्रपति बाइडेन के 'नौ-रत्न' बनने में सबसे आगे हैं भारतीय अमेरिकी

व्हाइट हाउस में नामांकन और नियुक्तियों के मामले में भारतीय अमेरिकी शीर्ष पर रहे हैं। इस तरह के समाचार यदा-कदा आते रहे हैं। यहां पेश है रिपोर्ट जिसमें छह प्रतिष्ठित नियुक्तियों के बार में विशेष जानकारी दी गई है।

राष्ट्रपति बाइडेन के 'नौ-रत्न' बनने में सबसे आगे हैं भारतीय अमेरिकी
विकार अहमद, रतन लाल, जैनी कुमार बाविशी, गीता राव गुप्ता, मोहसिन रज़ा सैयद और अरुण वेंकटरमन।

छह भारतीय अमेरिकी और पाकिस्तानी अमेरिकी बाइडेन प्रशासन में प्रमुख पदों के लिए नामांकन और नियुक्तियों की व्हाइट हाउस सूची में हैं। इनमें कई नामांकन ऐसे हैं जिन्हें पुन: नामांकन मिला है। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पिछले साल उनकी घोषणा की थी लेकिन उन्होंने अभी तक सीनेट की पुष्टि प्रक्रिया पूरी नहीं की है। दूसरी ओर नियुक्तियों के लिए सीनेट की पुष्टि की आवश्यकता नहीं होती है।

रतन लाल को मिट्टी विशेषज्ञ के तौर पर जाना जाता है। 

व्हाइट हाउस ने 14 जनवरी को रतन लाल को अंतर्राष्ट्रीय खाद्य और कृषि विकास बोर्ड के सदस्य के रूप में नियुक्त करने की घोषणा की। रतन लाल मिट्टी के साथ अपने काम के लिए व्यापक रूप से पहचाने जाते हैं जो खाद्य असुरक्षा को कम करने और जलवायु परिवर्तन के प्रभावों पर केंद्रित है।