'Home Of Hope' से अमेरिका में उम्मीदों का घर बनातीं ये विशेषज्ञ महिलाएं

एनजीओ की अध्यक्ष रीता शर्मा ने अर्थशास्त्र और आपदा प्रबंधन में डिग्री हासिल की है। कोषाध्यक्ष पट कुमार सूचना तकनीक के एक्सपर्ट हैं और साइबर सिक्योरिटी पर उन्हें महारत हासिल है। रेणुका ग्राहक सेवा और सेल्स से जुड़ी पेशेवर हैं। उनके पास विभिन्न इंडस्ट्री में काम करने का करीब 20 साल का अनुभव है।

'Home Of Hope' से अमेरिका में उम्मीदों का घर बनातीं ये विशेषज्ञ महिलाएं

अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के लोग ‘होम ऑफ होप’ (आशा का घर) नाम से एक स्वयंसेवी संस्था चलाते हैं। यह संस्था 22 साल से हर प्रकार की सुविधाओं से वंचित बच्चों के लिए काम करती है। सेन फ्रांसिस्को स्थित संस्था ने साल 2022 के लिए पदाधिकारियों और बोर्ड के सदस्यों की घोषणा की है। संस्था ने रीता शर्मा को अपना नया अध्यक्ष चुना है। संस्था की संस्थापक नीलिमा सभरवाल ने यह जानकारी दी।

रीता शर्मा ने अर्थशास्त्र और आपदा प्रबंधन में डिग्री हासिल की है। वह शर्मा इंश्योरेंस एजेंसी चलाती है। वह शुरुआती दिनों से ही होम ऑफ होम संस्था की समर्थक और प्रशंसक रही हैं। जब उनके सामने साईधाम प्रोजेक्ट पर काम करने का प्रस्ताव आया तो वह इसके लिए पूरी शिद्दत के साथ जुड़ी रहीं हैं। इसके अलावा पूर्व अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष नीलम भूटानी बोर्ड की सदस्य और प्रोजेक्ट समन्वयक बनी रहेंगी।