वर्ल्ड एक्सपो को संबोधित करने वाली दुनिया की सबसे युवा स्पीकर बनी छह साल की कियारा कौर

कियारा ने कहा कि इस महान कार्यक्रम में श्रोताओं को संबोधित करना बहुत रोमांचक था। मैंने अपना भाषण अपनी दादी कमांडर रीता बत्रा से बात करके तैयार किया था। कमांडर रीता ने भारत के सीमा सुरक्षा बल (BSF) में 40 साल तक सेवाएं दी थीं।

वर्ल्ड एक्सपो को संबोधित करने वाली दुनिया की सबसे युवा स्पीकर बनी छह साल की कियारा कौर

छह साल की भारतीय-अमेरिकी कियारा कौर किसी वर्ल्ड एक्सपो को संबोधित करने वाली दुनिया की सबसे युवा कीनोट स्पीकर बन गई है। कियारा की इस कामयाबी को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स लंदन में दर्ज किया गया है।

हाल ही में दुबई में हुए वर्ल्ड एक्सपो 2022 में ग्रेड-1 की छात्रा कियारा ने भाषण दिया था। उनके इस संबोधन को 'छोटे बदलाव, बड़े अंतर' कहा गया था। वहीं मेक्सिको पवेलियन में हुए अंतरराष्ट्रीय महिला सप्ताह में कियारा का भाषण महिला सशक्तिकरण पर केंद्रित था।

कियारा ने कहा कि इस महान कार्यक्रम में श्रोताओं को संबोधित करना बहुत रोमांचक था। मैंने अपना भाषण अपनी दादी कमांडर रीता बत्रा से बात करके तैयार किया था। कमांडर रीता ने भारत के सीमा सुरक्षा बल (BSF) में 40 साल तक सेवाएं दी थीं।

पिछले साल कियारा ने सबसे युवा टेडएक्स स्पीकर बनने का रिकॉर्ड भी बनाया था। यहां उनके भाषण का शीर्षक 'अनबॉक्सिंग क्यूरियोसिटी' था। वहीं केवल चार साल की उम्र में कियारा ने एक घंटे 45 मिनट में 36 किताबें पढ़ने का रिकॉर्ड बनाया था। उस वक्त वह नर्सरी स्कूल में थीं। एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स लंदन ने इस रिकॉर्ड को दर्ज किया था।

अपने सपने को लेकर कियारा कहती हैं कि मैं राष्ट्रपति बनना चाहती हूं, जिससे गरीबों की मदद कर सकूं। कियारा के डॉक्टर माता-पिता दुबई में रहते हैं। कियारा की मां डॉ. लिटिल महेंद्रा का कहना है कि हम अपनी बच्ची की उपलब्धि पर खुश हैं। लेकिन हम उस पर रिकॉर्ड बनाने का कोई दबाव नहीं बनाते हैं।