108 सैन्य उपकरणों के निर्माण में आत्मनिर्भर बनेगा भारत, रक्षा मंत्री की घोषणा

जिन रक्षा उपकरणों का निर्माण भारत में होगा, उनमें सेंसर, सिम्युलेटर, सोनार, रडार, हेलिकॉप्टर, नेक्स्ट जनरेशन कॉर्वेट, एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम आदि प्रणालियां शामिल हैं। कुछ महीने पहले ही भारत सरकार ने इन 108 उपकरणों के आयात पर प्रतिबंध लगाने का एलान किया था।

108 सैन्य उपकरणों के निर्माण में आत्मनिर्भर बनेगा भारत, रक्षा मंत्री की घोषणा

आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत बड़ा कदम उठाते हुए भारत के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि 108 सैन्य उपकरणों का जल्द ही देश में निर्माण होना शुरू हो जाएगा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस सप्ताह इसे लेकर औपचारिक एलान कर सकते हैं। जिन उपकरणों का देश में निर्माण किया जाएगा उनमें जटिल प्रणालियां भी शामिल हैं।

लखनऊ में ब्रह्मोस इकाई समेत विभिन्न रक्षा परियोजनाएं तेज रफ्तार से चल रही हैं।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में राजनाथ सिंह ने कहा कि हम भारत की रक्षा क्षमताओं को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लखनऊ में ब्रह्मोस इकाई समेत विभिन्न रक्षा परियोजनाएं तेज रफ्तार से चल रही हैं। उन्होंने कहा कि मंत्रालय रक्षा उत्पाद बढ़ाने और आयात पर निर्भरता कम करने के लिए अपनी ओर से हरसंभव सहयोग देने के लिए प्रतिबद्ध है।