भारत और यूके के बीच हुए ये समझौते दोनों देशों के युवाओं की किस्मत बदल देंगे

शिक्षा क्षेत्र के लिहाज से भारत और यूनाइटेड किंगडम के बीच महत्वपूर्ण समझौते हुए हैं। भारत और यूके ने एमओयू यानी आपसी समझबूझ को बढ़ाने के लिए समझौते किए हैं।

भारत और यूके के बीच हुए ये समझौते दोनों देशों के युवाओं की किस्मत बदल देंगे
Photo by Alexis Brown / Unsplash

शिक्षा क्षेत्र के लिहाज से भारत और यूनाइटेड किंगडम के बीच महत्वपूर्ण समझौते हुए हैं। भारत और यूके ने शिक्षा और रोजगार जगत में सहूलियत और सूझबूझ बढ़ाने के लिए एमओयू साइन किए हैं। नए भारत-यूके एमओयू का मतलब है कि ब्रिटेन के उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश के लिए भारतीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल या पूर्व-विश्वविद्यालय प्रमाणपत्र स्वीकार किए जाएंगे, जबकि यूके के ए-स्तर और उनके समकक्ष और स्नातक और स्नातकोत्तर डिग्री भारत में मान्यता प्राप्त होगी।

ब्रिटेन के उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश के लिए भारतीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय या पूर्व-विश्वविद्यालय प्रमाणपत्र स्वीकार किए जाएंगे। Photo by Chris Boland / Unsplash

शैक्षिक योग्यता को मान्यता देने पर भारत-यूके एमओयू ब्रिटिश विश्वविद्यालयों से स्नातक करने वाले भारतीय छात्रों को स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन करने या सरकारी करियर शुरू करने की अनुमति देगा।