कोरोना से पहले की स्थिति लौटी, दो साल बाद भारत से नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ान 27 मार्च से

नागर विमानन मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि उड़ानों का संचालन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के 10 फरवरी को जारी दिशानिर्देशों के सख्ती से अनुपालन के साथ किया जाएगा।

कोरोना से पहले की स्थिति लौटी, दो साल बाद भारत से नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ान 27 मार्च से
Photo by VOO QQQ / Unsplash

कोविड-19 महामारी की वजह से रूटीन अंतरराष्ट्रीय उड़ानें करीब दो साल से बंद हैं। 27 मार्च से भारत अब नियमित रूप से अंतरराष्ट्रीय उड़ान का संचालन फिर से शुरू करेगा। भारत सरकार ने 23 मार्च 2020 को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर  प्रतिबंध लगाए थे। हालांकि जुलाई 2020 से करीब 35 देशों के साथ ‘एयर बबल’व्यवस्था के तहत भारत से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन हो रहा है।

Boeing 787 Dreamliner
जनवरी 2022 की तुलना में फरवरी 2022 में अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की संख्या में 19 फीसदी का इजाफा हुआ है। Photo by Daniel Eledut / Unsplash

भारत के नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का कहना है कि उद्योग से जुड़े लोगों के साथ विचार-विमर्श और कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी को देखते हुए हमने सेवाओं को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि इस निर्णय के साथ एयर बबल व्यवस्था को हटा दिया गया है। इस निर्णय से विमानन उद्योग नई ऊंचाइयों पर पहुंचेगा। हालांकि इस दौरान कोरोना के लिए जारी गाइडलाइंस का पूरा ध्यान रखा जाएगा। नागर विमानन मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि उड़ानों का संचालन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के 10 फरवरी को जारी दिशानिर्देशों के सख्ती से अनुपालन के साथ किया जाएगा।