Skip to content

उनके 'हठ' पर भारत का जवाब, चीनी नागरिकों का पर्यटन वीजा अवैध करार

भारत के इस फैसले के बाद चीनी नागरिक अब पर्यटक वीजा पर भारत नहीं आ पाएंगे। दुनियाभर में एयरलाइंस के संचालन पर नजर रखने वाली संस्था अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन संघ (IATA) ने कहा है कि चीनी नागरिकों को जारी किए गए भारतीय पर्यटन वीजा वैध नहीं रह गए हैं।

भारत ने चीन को मुंहतोड़ जवाब देते हुए चीनी नागरिकों के पर्यटन वीजा को अवैध करार दिया है। दरअसल, वैश्विक कोरोना महामारी के बीच चीन से करीब 20 हजार से अधिक भारतीय छात्र वापस लौट गए थे। तमाम प्रयासों के बावजूद अड़ियल रवैया दिखाते हुए चीन इन भारतीय छात्रों को वापस आने की अनुमति नहीं दे रहा है। हालांकि चीन ने इस दौरान पाकिस्तान, थाईलैंड और श्रीलंका के छात्रों को आने की इजाजत दे दी, लेकिन भारतीय छात्रों को वेटिंग में रखा है।

छात्रों के भविष्य के देखते हुए भारत सरकार ने चीन से कई बार आग्रह किया, लेकिन चीन पर कोई असर नहीं हुआ। बता दें कि इससे पहले भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी के सामने भी यह मुद्दा उठाया था। वांग पिछले महीने भारत दौरे पर आए थे। लेकिन चीन ने इस मुद्दे पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। ऐसे में भारत ने चीन के नागरिकों को जारी किए गए टूरिस्ट वीजा को रद्द कर दिया है। माना जा रहा है कि चीनी हठधर्मिता को देखते हुए भारत को ये कदम उठाने के लिए मजबूर होना पड़ा है। हालांकि भारत की तरफ से व्यापार, नौकरी, आधिकारिक वीजा पर रोक नहीं लगाई गई है।

भारत के इस फैसले के बाद चीनी नागरिक अब पर्यटक वीजा पर भारत नहीं आ पाएंगे।

भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची का कहना है कि चीनी विदेश मंत्रालय ने इस साल 8 फरवरी को कहा था कि चीन इस मामले पर नजर बनाए है और विदेशी छात्रों को चीन लौटने की अनुमति देने की व्यवस्था की जांच की जा रही है। लेकिन आज तक, चीनी पक्ष ने भारतीय छात्रों की वापसी के बारे में कोई स्पष्ट प्रतिक्रिया नहीं दी है।

भारत के इस फैसले के बाद चीनी नागरिक अब पर्यटक वीजा पर भारत नहीं आ पाएंगे। दुनियाभर में एयरलाइंस के संचालन पर नजर रखने वाली संस्था अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन संघ (IATA) ने कहा है कि चीनी नागरिकों को जारी किए गए भारतीय पर्यटन वीजा वैध नहीं रह गए हैं।

गौरतलब है कि भारत के टूरिस्ट वीजा की वैधता 10 साल तक रहती है। वैश्विक संस्था आईएटीए समय-समय पर अपडेट देता रहता है ताकि एयरलाइंस को पता चलता रहे कि किन-किन देशों के नागरिकों को किन-किन देशों की यात्रा की अनुमति है। भारत ने पिछले महीने 156 देशों के लिए इलेक्ट्रॉनिक टूरिस्ट वीजा की सुविधा दोबारा बहाल कर दी थी। भारत ने कोविड के कारण दो वर्षों के बाद 27 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू की हैं।

Latest