भारत और दक्षिण कोरिया के बीच सहमति मजबूत, कारोबार में बढ़ाएंगे गति

भारतीय विदेश मंत्रालय के अनुसार, भारत और दक्षिण कोरिया के बीच व्यापार और आर्थिक संबंधों ने हाल के वर्षों में गति पकड़ी है, जिसमें सालाना द्विपक्षीय व्यापार 2018 में 21.5 अरब डॉलर तक पहुंच गया था। ऐसा पहली बार हुआ जब दोनों देशों के बीच कारोबार 20 अरब डॉलर का आंकड़ा पार कर गया है।

भारत और दक्षिण कोरिया के बीच सहमति मजबूत, कारोबार में बढ़ाएंगे गति
Photo by Daniel Bernard / Unsplash

भारत और दक्षिण कोरिया ने आपसी व्यापार को बढ़ाने पर सहमति जताई है। दोनों देशों ने 2030 से पहले इसे 50 अरब डॉलर तक पहुंचाने के लक्ष्य को दोहराया है। इस संबंध में भारत के वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल और दक्षिण कोरिया के वाणिज्य मंत्री येओ हान- कू के बीच नई दिल्ली में बैठक हुई। दक्षिण कोरिया के वाणिज्य मंत्री भारतीय मंत्री गोयल के निमंत्रण पर बातचीत के लिए भारत आए थे।

बताया गया है कि दोनों मंत्रियों के बीच व्यापक बातचीत हुई। इसमें व्यापार और निवेश से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। हाल में हुई इस बातचीत में दोनों मंत्रियों ने भारत और कोरिया के व्यापार जगत के लोगों के निवेश पर संवाद को प्रोत्साहित करने पर भी सहमति जताई है। बता दें कि दोनों देशों ने जनवरी, 2010 में वृहद आर्थिक भागीदारी करार (CEPA) का क्रियान्वयन किया था। सीईपीए को लेकर दोनों देशों के उद्योग जगत द्वारा कुछ कठिनाइयां जताई गई हैं। इस मुद्दे पर दोनों मंत्रियों ने उसका समाधान खुले मन से चर्चा के जरिए करने पर सहमति जताई है।