इतने कम दिनों में भारत में आया 40,49,72,58,30,000 करोड़ रुपये का FDI

आंकड़ों के अनुसार अप्रैल-नवंबर 2021 के दौरान एफडीआई इक्विटी प्रवाह 39.26 अरब अमेरिकी डॉलर (2,93,929 करोड़ रुपये) था जबकि पिछले वित्त वर्ष में अप्रैल-नवंबर 2020 के दौरान 43.85 बिलियन अमेरिकी डॉलर (328 करोड़ रुपये) दर्ज किया गया था।

इतने कम दिनों में भारत में आया 40,49,72,58,30,000 करोड़ रुपये का FDI

भारत सरकार देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की सभी कोशिशें में लगी हुई है। यही वजह है कि वित्त वर्ष 2020—21 के अप्रैल के नवंबर बीच भारत में कुल प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) रिकॉर्ड 54.10 बिलियन अमरीकी डॉलर यानी 4 लाख 4 हजार 970 करोड़ रुपये आया है। यह जानकारी संसद में भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने दी है।

उन्होंने संसद में बताया कि सरकार ने एफडीआई के लिए एक उदार और पारदर्शी नीति बनाई है जिसमें अधिकांश क्षेत्र स्वचालित मार्ग के तहत खुले हुए हैं। व्यापार करने में आसानी से लेकर और निवेश आकर्षित करने तक एफडीआई नीति को और उदार और सरल बनाने के लिए सरकार ने कोयला खनन, अनुबंध निर्माण, डिजिटल मीडिया, एकल-ब्रांड खुदरा व्यापार, नागरिक उड्डयन, रक्षा, बीमा और दूरसंचार जैसे क्षेत्रों में हाल ही में सुधार किए गए हैं। उन्होंने लोकसभा में एक प्रश्नकाल के दौरान कहा कि चालू वित्त वर्ष 2021-22 के नवंबर 2021 तक देश में 54.10 अरब अमेरिकी डॉलर (4,04,970 करोड़ रुपये) का एफडीआई प्रवाह दर्ज किया गया है।