ईंधन खरीद के लिए भारत ने श्रीलंका को दी 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा

श्रीलंका इस समय विदेशी मुद्रा के गंभीर संकट का सामना कर रहा है। इस द्वीपीय देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार कम होता जा रहा है। इस वजह से श्रीलंका की मुद्रा के मूल्य में गिरावट आ रही है और आयात बहुत महंगा हो रहा है।

ईंधन खरीद के लिए भारत ने श्रीलंका को दी 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा

नकदी और ऊर्जा के संकट से जूझ रहे पड़ोसी देश श्रीलंका को पेट्रोलियम उत्पादों की खरीद के लिए भारत ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए 50 करोड़ डॉलर (लगभग 372 करोड़ 98 लाख 75 हजार रुपये) की ऋण सुविधा देने का एलान किया है। कोलंबो में भारतीय उच्चायोग ने इस निर्णय की जानकारी देते हुए कहा कि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने श्रीलंकाई समकक्ष जीएल पेइरिस को एक पत्र लिख कर 50 करोड़ डॉलर की कर्ज सुविधा देने पर सहमति व्यक्त की है।

उल्लेखनीय है कि श्रीलंका इस समय विदेशी मुद्रा के गंभीर संकट का सामना कर रहा है। इस द्वीपीय देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार कम होता जा रहा है। इस वजह से श्रीलंका की मुद्रा के मूल्य में गिरावट आ रही है और आयात बहुत महंगा हो रहा है। इसके अलावा देश में महंगाई भी रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है और लोग ईंधन समेत लगभग सभी जरूरी वस्तुओं की कमी का सामना कर रहे हैं। यहां सरकारी इकाइयां टर्बाइन नहीं चला पा रही हैं और खूब बिजली कटौती हो रही है।