खाड़ी देशों व मिस्र में IIT कैंपस खोलने के लिए भारत ने किया समिति का गठन

IIT दिल्ली सऊदी अरब और मिस्र में केंद्र खोलने का इच्छुक है। इसने विदेशी परिसरों की स्थापना का प्रस्ताव दिया था जहां यह चार साल के स्नातक पाठ्यक्रम की पेशकश करेगा और सैट परीक्षणों के आधार पर 240 छात्रों को प्रवेश देगा।

खाड़ी देशों व मिस्र में IIT कैंपस खोलने के लिए भारत ने किया समिति का गठन

भारत सरकार ने सात भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (IIT) के निदेशकों और चार केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों की एक 16 सदस्यीय समिति का गठन किया है जो खाड़ी देशों सहित इन विश्वविद्यालयों के विदेशी परिसरों को अनुमति देने के लिए एक रोडमैप तैयार करेगी।

समिति 17 मार्च तक विदेशों में कैंपस खोलने की रूपरेखा पेश करेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईआईटी काउंसिल की स्टैंडिंग कमेटी के चेयरमैन डॉ. के राधाकृष्णन की अध्यक्षता में यह 17 मार्च तक विदेशों में कैंपस खोलने की रूपरेखा पेश करेगी।