अमेरिकी रिपोर्ट: महामारी के दौरान भारत में अमीर-गरीब का 'अंतर' कम हुआ!

शोधकर्ताओं के डेटा का मुख्य स्रोत उपभोक्ता पिरामिड घरेलू सर्वेक्षण (CPHS) था जो भारतीय अर्थव्यवस्था की निगरानी के लिए भारत सरकार द्वारा आयोजित किया गया था। इसमें जनवरी 2015 से जुलाई 2021 के बीच 1.97 लाख परिवारों की वित्त जानकारी के नमूने उपलब्ध हैं।

अमेरिकी रिपोर्ट: महामारी के दौरान भारत में अमीर-गरीब का 'अंतर' कम हुआ!
Photo by Dulana Kodithuwakku / Unsplash

जहां एक तरफ कोरोना महामारी ने भारत में लाखों भारतीयों को गरीबी में धकेल दिया वहीं अमेरिका में किए गए एक शोध में सामने आया है कि भारत में शुरुआती लॉकडाउन के बाद आय असमानता में​ गिरावट आई है। आय असमानता मूल रूप से अमीर और गरीब की आय के बीच का औसत अंतर है। यह असमानता तब गिरती है जब अमीरों की आय कम हो जाती है या गरीबों की आय बढ़ जाती है।

नेशनल ब्यूरो ऑफ इकोनॉमिक रिसर्च (NBER) एक गैर-लाभकारी संस्था है जो अर्थशास्त्र पर शोध करने और प्रसार करने पर ध्यान केंद्रित करती है। इस संस्था द्वारा जारी रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि भारत में कोविड के दौरान आम लोगों की आय में बढ़ती असमानता कम हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में उच्च आय वर्ग के भारतीयों की आय में गरीबों की तुलना में अधिक कमी आई।रिपोर्ट को न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय के स्टर्न स्कूल ऑफ बिजनेस से अर्पित गुप्ता और शिकागो लॉ स्कूल विश्वविद्यालय से अनूप मलानी और बार्टोज वोडा ने तैयार किया है।