भारत में पहली बार, पति-पत्नी ने मिलकर एक साल में खड़ा कर दिया यूनिकॉर्न

38 वर्षीय रुचि कालरा और उनके 41 वर्षीय पति आशीष महापात्रा दोनों भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) के पूर्व छात्र हैं और मैकिन्से एंड कंपनी में काम करते हुए दोनों मिले थे। दोनों की दो कंपनियां हैं जो प्रॉफ्टि में चल रही हैं।

भारत में पहली बार, पति-पत्नी ने मिलकर एक साल में खड़ा कर दिया यूनिकॉर्न

एक भारतीय कपल ने मात्र एक साल के भीतर 1 बिलियन डॉलर यानी लगभग 7,633 करोड़ रुपये के मूल्यांकन वाली कंपनी को बनाकर खड़ा किया है। ये भारत के ऐसे पहले पति-पत्नी हैं जिन्होंने देश का पहला ऐसा स्टार्टअप खड़ा किया है जिसे यूनिकॉर्न भी कहा जाता है।

38 वर्षीय रुचि कालरा और उनके 41 वर्षीय पति आशीष महापात्रा दोनों भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) के पूर्व छात्र हैं।

डिजिटल लेंडिंग स्टार्टअप ऑक्सीजो फाइनेंशियल सर्विसेज की सह संस्थापक रुचि कालरा ने बताया कि अल्फा वेव ग्लोबल, टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट, नॉरवेस्ट वेंचर पार्टनर्स और अन्य के नेतृत्व में उनकी कंपनी ने 200 मिलियन डॉलर का रिकॉर्ड फंड हासिल किया है। एक साल से भी कम समय मे उनकी कंपनी की वेल्यू सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्प समेत कई अन्य के समर्थन के बाद इस स्थान पर पहुंची है।