Skip to content

20 साल में पहली बार पाकिस्तान ने वापस लिया लश्कर आतंकवादी का शव

21 अगस्त की रात को राजोरी में नियंत्रण रेखा के नौशेरा सेक्टर में लश्कर आतंकी तबारक हसैन फिदायीन दस्ते के साथ घुसपैठ करते पकड़ा गया था। वह घायल अवस्था में था क्योंकि उसे गोली लगी थी। भारत के सैन्य अस्पताल में उपचार के दौरान 3 सितंबर को दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई थी।

दो दशक से भी ज्यादा समय में ऐसा पहली हुआ है जब पाकिस्तान ने किसी प्रशिक्षित आतंकवादी का शव वापस लिया है। 21 अगस्त की रात को राजौरी में नियंत्रण रेखा के नौशेरा सेक्टर में लश्कर आतंकी तबारक हसैन फिदायीन दस्ते के साथ घुसपैठ करते पकड़ा गया था। वह घायल अवस्था में था क्योंकि उसे गोली लगी थी। भारत के सैन्य अस्पताल में उपचार के दौरान 3 सितंबर को दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गई थी।

सोमवार को आतंकी संगठन लश्कर-ए-ताइबा से जुड़े तबारक हुसैन (32) के शव को पुंछ जिले में चकां दा बाग स्थित राह-ए-मिलन पोस्ट से पाकिस्तानी सेना को सौंप दिया गया। तबारक पाक अधिकृत कश्मीर के सब्जकोट इलाके का रहने वाला था। प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में लश्कर आतंकी तबारक का शव पाकिस्तानी सेना को सौंपा गया।

This post is for paying subscribers only

Subscribe

Already have an account? Log in

Latest