भारत विरोध में लगे 20 Youtube व 2 News website पर प्रतिबंध का निर्णय

इन प्लेटफॉर्म पर प्रसारित वीडियो में इस तरह के दावे किए जाते थे कि 'पीएम मोदी ने कश्मीर में हार मान ली: अनुच्छेद 370 बहाल', 'तालिबान सेना भारत के लिए काबुल से निकल चुकी है','तैय्यप एर्दोगन ने कश्मीर के लिए 35000 सैनिकों को भेजा है' और 'तुर्क सेना बदला लेने के लिए अयोध्या राम मंदिर में प्रवेश करेगी'।

भारत विरोध में लगे 20 Youtube व 2 News website पर प्रतिबंध का निर्णय
Photo by Szabo Viktor / Unsplash

भारत में माहौल खराब करने का काम करने वाले 20 यूट्यूब चैनल और दो न्यूज वेबसाइट पर भारत सरकार ने प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। सरकार के केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने दूरसंचार और यूट्यूब विभाग को दो समाचार वेबसाइटों और 20 यूट्यूब चैनलों को ब्लॉक करने का निर्देश दिया है। यह सभी भारत में खतरनाक, नकली और भारत विरोधी सामग्री परोसने का काम कर रहे थे। यह पहली बार है जब सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आईटी नियमों के तहत दंडात्मक कार्रवाई की है।

भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने मीडिया से कहा कि कुछ पोर्टल और वेबसाइट के जरिए फेक न्यूज के माध्यम से देश में भय और भ्रम की स्थिति फैलाई जा रही थी। नया पाकिस्तान ग्रुप के जरिए चलने वाले लगभग 15 यूट्यूब चैनल के अलावा 5 अन्य यूट्यूट चैनल और 2 वेबसाइट को बैन किया गया है। सरकार के अनुसार ऐसा प्रतीत होता है कि इनकी उत्पत्ति पाकिस्तान में हुई है और इसके पाकिस्तान की आईएसआई से संबंध हो सकते हैं। नया पाकिस्तान ग्रुप नाम के 15 यूट्यूब चैनलों पर एक मिलियन से अधिक सब्सक्राइबर हैं।