एशियाई मूल की महिलाओं को फिल्मी क्षेत्र में आगे लाने के लिए फेलोशिप

1999 में हाइड पार्क की स्थापना से पहले अशोक अमृतराज एक सफल पेशेवर टेनिस खिलाड़ी रहे हैं। उन्होंने अपने 30 साल के करियर में 100 से अधिक फिल्में बनाई हैं।

एशियाई मूल की महिलाओं को फिल्मी क्षेत्र में आगे लाने के लिए फेलोशिप

विख्यात टेनिस खिलाड़ी और हॉलिवुड फिल्म निर्माता एशियाई मूल की महिलाओं को फिल्मों के क्षेत्र में आगे लाने की कोशिशों में जुट गए हैं। भारत के चेन्नई में जन्मे अशोक अमृतराज के हाइड पार्क एंटरटेनमेंट ग्रुप और वार्नर म्यूजिक एंटरटेनमेंट की फिल्म और टेलीविजन डिवीजन ने एशियन महिलाओं के लिए एक फेलोशिप लॉन्च की है। इस पहल के माध्यम से एशियाई मूल की महिला लेखकों और निर्देशकों को फिल्मों में जगह दी जाएगी। प्रमुख उद्योग सलाहकारों के मार्गदर्शन के साथ फेलोशिप पाने वाले विजेता अपने प्रोजेक्ट को विकसित कर सकेंगे। इन्हें जिनके साथ काम करने का अवसर मिलेगा उनमें अकादमी पुरस्कार विजेता क्लो झाओ, जेम्मा चान, इंडिपेंडेंट स्पिरिट अवार्ड विजेता लुलु वांग और गुरिंदर चड्ढा शामिल हैं।

हाइड पार्क एंटरटेनमेंट के चेयरमैन अशोक अमृतराज कहते हैं कि मैं वार्नर म्यूजिक एंटरटेनमेंट और फिल्म इंडिपेंडेंट के साथ साझेदारी करके रोमांचित हूं। 

कार्यक्रम के के तहत सारी अरामबुलो को दस फाइनलिस्ट के शुरुआती चरण में से चुना गया है। उन्हें अनुदान देने के साथ ही सम्मानित किया गया है। अरामबुलो एक अभिनेता, लेखक और निर्माता हैं। उन्हें एनबीसी/पीकॉक की कॉमेडी एपी बायो में ग्रेस को चित्रित करने के लिए जाना जाता है। अरामबुलो के जिस प्रोजेक्ट को पुरस्कृत किया गया है वह एक अप्रत्याशित दोस्ती की कहानी है। भोजन और दोस्ती के माध्यम से, वह अपनी संस्कृति के बारे में अधिक जानने और अपनी जन्म देने वाली मां को खोजने के लिए अपनी यात्रा शुरू करते हैं।