7,090 मूर्तियों का विशाल समागम, इस मंदिर का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड्स में

7,090 मूर्तियां 6 इंच से 6 फीट तक की हैं जिसमें विभिन्न रूपों और वेशभूषा की मूर्तियां शामिल हैं। विश्व रिकार्ड कायम करने की दृष्टि से पूरी परियोजना 2000 में शुरू की गई थी और 22 साल बाद गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड हासिल किया गया।

7,090 मूर्तियों का विशाल समागम, इस मंदिर का नाम गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड्स में

पूरे भारत में श्री स्वामीनारायण भगवान की पूजा-अर्चना विशेष भक्तिभाव से होती है। उन्हीं के विभिन्न स्वरूपों की 7090 मूर्तियों का विशाल समागम कर स्वामी नारायण मंदिर कुंडलधाम, अहमदाबाद, गुजरात ने वर्ल्ड रिकार्ड कायम किया है। मूर्तियों के विशाल समागम के लिए इस मंदिर को गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड का सम्मान मिला और ज्ञानजीवनदास स्वामी को मुंबई में यह अवॉर्ड प्रदान किया गया।

स्वामीनारायण भगवान के विभिन्न स्वरूपों की 7,090 मूर्तियों का विशाल समागम कुंडलधाम गुजरात में किया गया।

गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड्स ने अपने उद्धरण में कहा कि यह 7,090 धार्मिक मूर्तियों का सबसे बड़ा संग्रह है और इसे पिछले वर्ष 18 दिसंबर कुंडलधाम (गुजरात) में ज्ञानजीवनदासजी स्वामी (भारत) द्वारा हासिल किया गया। 'कुंडलधाम में स्वामीनारायण के अक्षरधाम' कार्यक्रम में 5000 से अधिक लोग शामिल हुए थे, जहां जनता के देखने के लिए धार्मिक प्रतिमाएं उपलब्ध थीं।