आइए जानिए भारत के प्रथम नागरिक के अधिकार और जीवन भर की कमाई

भारत के राष्ट्रपति राष्ट्रपति भवन में रहते हैं जो दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति भवन है। नई दिल्ली में स्थित इस विशाल विरासत भवन में चार मंजिलों में फैले कुल 340 कमरे हैं, 2.5 किलोमीटर के गलियारे और 190 एकड़ का उद्यान क्षेत्र है। राष्ट्रपति को लगभग 5 लाख रुपये प्रति माह का वेतन मिलता है।

आइए जानिए भारत के प्रथम नागरिक के अधिकार और जीवन भर की कमाई

भारत में अगले राष्ट्रपति का चुनाव का चयन शुरू हो चुका है। मौजूदा मोदी सरकार किस व्यक्तित्व को राष्ट्रपति पद के लिए दावेदार बनाएगी, यह अभी तय नहीं हो पाया है। वहीं विपक्ष भी इसी कोशिशों में है कि अगला राष्ट्रपति विपक्ष की ओर से बन पाए। खैर ये तो वक्त रहते सामने आ ही जाएगा। लेकिन बात ये है कि भारत के मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का पांच साल का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। भारत में राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई को होने हैं और आवश्यक हुआ तो वोटों की गिनती 21 जुलाई को होगी। आइए एक भारतीय राष्ट्रपति के जीवन पर एक नजर डालते हैं।

Family Night
राष्ट्रपति भारत देश का सर्वोच्च अधिकारी जिन्हें देश का प्रथम नागरिक भी कहा जाता है और जो राष्ट्र की अखंडता और एकजुटता के प्रतीक के रूप में कार्य करता है। Photo by Anmol Maggon / Unsplash

भारत में राष्ट्रपति का दर्जा

राष्ट्रपति भारत देश का सर्वोच्च अधिकारी, जिन्हें देश का प्रथम नागरिक भी कहा जाता है और जो राष्ट्र की अखंडता और एकजुटता के प्रतीक के रूप में कार्य करता है। राष्ट्रपति तीनों सशस्त्र बलों थल सेना, वायु सेना और नौसेना का सर्वोच्च कमांडर भी होता है। इतना शक्तिशाली और प्रभावशाली व्यक्ति होने के नाते यह पद कई भत्तों और विशेषाधिकारों के साथ आता है। क्या आपने कभी सोचा है कि भारत के राष्ट्रपति को कितना वेतन मिलता है? चलिए यह भी जान लेते हैं।

राष्ट्रपति का वेतन और अन्य सुविधाएं

भारत के राष्ट्रपति को लगभग 5 लाख रुपये प्रति माह का वेतन मिलता है। 2017 तक राष्ट्रपति को हर महीने 1.50 लाख रुपये मिलते थे। हालांकि 2017 में इसे बढ़ाकर 5 लाख रुपये प्रति माह कर दिया गया था। राष्ट्रपति को अन्य भत्ते भी मिलते हैं, जिनमें मुफ्त चिकित्सा, आवास और उपचार सुविधाएं (पूरे जीवन) शामिल हैं। इसके अलावा भारत सरकार राष्ट्रपति के आवास, स्टाफ, भोजन और मेहमानों की मेजबानी जैसे अन्य खर्चों पर सालाना 2 करोड़ 25 लाख रुपये खर्च करती है। भारत के राष्ट्रपति कस्टम-निर्मित ब्लैक मर्सिडीज बेंज S600 (W221) पुलमैन गार्ड की सवारी करते हैं। राष्ट्रपति के पास आधिकारिक यात्राओं के लिए भारी बख्तरबंद लिमोसिन भी है। राष्ट्रपति दो समान रूप से भव्य अवकाश रिट्रीट के भी हकदार हैं। एक हैदराबाद में राष्ट्रपति निलयम है और दूसरा शिमला में रिट्रीट बिल्डिंग है। राष्ट्रपति और उनकी पत्नी दुनिया में कहीं भी मुफ्त में यात्रा कर सकते हैं।

भारत के राष्ट्रपति का निवास दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति भवन है। Photo by Abhishek Sagar / Unsplash

राष्ट्रपति कहां रहते हैं?

भारत के राष्ट्रपति राष्ट्रपति भवन में रहते हैं जो दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति भवन है। नई दिल्ली में स्थित इस विशाल विरासत भवन में चार मंजिलों में फैले कुल 340 कमरे हैं, 2.5 किलोमीटर के गलियारे और 190 एकड़ का उद्यान क्षेत्र है। हेरिटेज बिल्डिंग में राष्ट्रपति का आधिकारिक निवास है, जिसमें रिसेप्शन हॉल, गेस्ट रूम और कार्यालय शामिल हैं जिन्हें हवेली भी कहा जाता है। उनके पास पांच लोगों का एक सचिवीय कर्मचारी है और राष्ट्रपति भवन के रखरखाव के लिए अन्य 200 लोग कार्यरत हैं।

सेवानिवृत्ति के बाद का जीवन

भारत के राष्ट्रपति भी सेवानिवृत्ति के बाद भत्तों और विशेषाधिकारों के एक वॉली के हकदार हैं। पूर्व राष्ट्रपति सरकारी आवास के लिए पात्र हैं और एक मोटी पेंशन के हकदार हैं। सेवानिवृत्त राष्ट्रपति को 1.5 लाख प्रति माह पेंशन मिलती है। राष्ट्रपतियों के जीवनसाथी को प्रतिमाह 30,000 रुपये सचिवीय सहायता के तौर पर मिलते हैं। इसके अलावा एक पूरी तरह से सुसज्जित किराया मुक्त बंगला, दो मुफ्त लैंडलाइन और एक मोबाइल फोन भी मिलता है। इतना ही नहीं पांच निजी स्टाफ रखने के लिए सालाना 60,000 रुपये प्रतिवर्ष मिलते हैं। इसके अलावा एक साथी के साथ ट्रेन या हवाई मार्ग से मुफ्त यात्रा भी वह जीवन भर कर सकते हैं।