बर्फीली हवाओं में जान गंवाने वाले परिवार के लिए आगे आए भारतीय प्रवासी

पैसे के अभाव में भारत में जगदीश पटेल के परिवार ने बॉडी को भारत ले जाने के लिए इंकार कर दिया है। अहमदाबाद में चचेरे भाई जसवंत पटेल चाहते हैं कि परिवार का अंतिम संस्कार कनाडा में किया जाए।

बर्फीली हवाओं में जान गंवाने वाले परिवार के लिए आगे आए भारतीय प्रवासी

बीते दिनों अमेरिकी कनाडा सीमा पर मारे गए भारतीय परिवार के लिए अमेरिका समेत दुनिया भर में रह रहे भारतीय मदद के लिए आगे आए हैं। आम लोगों के जीवन से जुड़ी समस्याओं के लिए फंड इकट्ठा करने में मदद करने वाली वेबसाइट 'गो फंड मी' (www.gofundme.com) पर परिवार के एक शुभ चिंतक ने मृत परिवार और उनके परिजनों के लिए 70 हजार डॉलर यानी लगभग 52 लाख रुपये इकट्ठा करने का टारगेट बनाया था लेकिन 590 भारतीयों ने मात्र दो दिन के भीतर परिवार के लिए 73,775 डॉलर (55,30,476 रुपये) जुटा दिए।

गो फंड मी पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार अमेरिका के राज्य इलिनोइस में बसे दिलीप पटेल ने बर्फीली हवाओं से अपनी जान गवां बैठे परिवार के अंतिम संस्कार और अन्य खर्च के लिए इस फंड को इकट्ठा करने के लिए दो दिन पहले वेबसाइट पर जानकारी साझा की थी। दिलीप पटेल ने लिखा है कि वह इस रकम का परिवार के अंतिम संस्कार में उपयोग करेंगे। बाकी बची राशि को मृत जगदीश पटेल के भारत में रह रहे माता पिता को दी जाएगी। दिलीप ने वेबसाइट पर लिखा कि जन्म और मृत्यु का चक्र भगवान के हाथों में है लेकिन हम इस परिवार की इस दुख की घड़ी में केवल मदद कर सकते हैं।