चले आओ अमेरिका: कोरोना प्रकोप के बावजूद खूब बांटा गया H-1B Visa

अमेरिकी सरकार के इन कदमों से साफ संकेत मिल रहा है कि वह कौशल के क्षेत्र में पूरी दुनिया से लोगों का स्वागत और उन्हें स्वीकार करने की तैयारी कर रहा है। पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अधिक आप्रवासन के विरोधी थे और वह आप्रवासियों को लाभ देने के खिलाफ थे।

चले आओ अमेरिका: कोरोना प्रकोप के बावजूद खूब बांटा गया H-1B Visa

अमेरिका में कंपनियों को विदेशी कर्मचारियों को काम पर रखने की अनुमति देने वाले एच-1बी वीजा (H-1B Visa) के लिए वित्त वर्ष 2021 में अनुमति देने की दर एक दशक में सबसे अधिक रही है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वैश्विक वायरस महामारी के चलते लगे यात्रा प्रतिबंधों के बाद भी यह स्थिति देखने को मिली।

यूएस नागरिकता एवं आप्रवासन सेवाओं (USCIS) की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार अक्तूबर 2020 से इस साल सितंबर तक एच-1बी वीजा के लिए अनुमति दर  97.3 फीसदी रही। एजेंसी को इस दौरान रोजगार की शुरुआत या इसे जारी रखने के लिए या नवीनीकरण के लिए तीन लाख 98 हजार 367 आवेदन प्राप्त हुए थे।