गर्व की बातः दुनियाभर में गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा दे रहे ये भारतीय अमेरिकी छात्र

यह समुदाय सप्ताह में दो बार बच्चों के लिए कक्षाएं आयोजित करता है। इसके अलावा ये लोग स्कूलों, पुस्तकालयों और सार्वजनिक क्षेत्रों में कार्यशालाएं भी प्रदान करते हैं।

गर्व की बातः दुनियाभर में गरीब बच्चों को मुफ्त शिक्षा दे रहे ये भारतीय अमेरिकी छात्र
हर सप्ताह में कम से कम दो दिन बच्चों को पढ़ाया जाता है। 

भारतीय अमेरिकी छात्राएं ईशानी दास (Ishani Das) और अनुषा सिंघई (Anusha Singhai) पढ़ाई के क्षेत्र में एक नई इबारत लिख रही हैं। इन्होंने 'वी लव एसटीईएम' (We Love STEM) नाम का एक गैर-लाभकारी समुदाय बनाया है। इसके जरिए ये दुनियाभर में मिडिल स्कूल के गरीब बच्चों के लिए STEM (साइंस, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग और मैथ्स) की मुफ्त शिक्षा प्रदान कर रही हैं।  इनका उद्देश्य है कि बच्चों में एसटीईएम के प्रति दिलचस्पी बढ़ाई जा सके और उन्हें दिमागी तौर पर विकसित किया जा सके।

ईशानी इस समुदाय की अध्यक्ष और अनुषा उपाध्यक्ष हैं। उनके अलावा भी तमाम लोग इस समुदाय से जुड़कर बच्चों को लाभान्वित कर रहे हैं। समुदाय का मानना ​​है कि अगर किसी के पास कोड, निर्माण, अन्वेषण, प्रयोग और अनुभव करने का अवसर हो, तो एसटीईएम अविश्वसनीय रूप से मनोरंजक हो सकता है। उनके मुताबिक सभी बच्चों को नवोन्मेषी, शिक्षक, शोधकर्ता, उपदेशक और नेता बनने का समान अवसर मिलना चाहिए, जो विश्व के सबसे महत्वपूर्ण संकट और चिंताओं को दूर कर सकते हैं।