जॉर्जिया के हिंदुओं को तोहफा, दो अप्रैल को हिंदू नव वर्ष घोषित किया गया

गवर्नर ब्रायन केंप ने कहा कि जॉर्जिया में हिंदुओं की बड़ी और बहुआयामी आबादी है। उनमें आस्था और प्रथाओं का एक खूबसूरत संगम है। हमारे राज्य में हिंदू-अमेरिकियों ने उल्लेखनीय योगदान दिया है। उनका यह भी कहना था कि हिंदुओं की धार्मिक परंपराओं ने जॉर्जिया की सांस्कृतिक विविधता को और समृद्ध किया है।

जॉर्जिया के हिंदुओं को तोहफा, दो अप्रैल को हिंदू नव वर्ष घोषित किया गया

अमेरिका के जॉर्जिया प्रांत ने यहां रहने वाले हिंदुओं को बड़ा तोहफा दिया है। यहां के गवर्नर ब्रायन केंप ने दो अप्रैल को हिंदू नव वर्ष घोषित किया है। गवर्नर ने यह फैसला यहां बड़ी संख्या में रह रहे हिंदू समुदाय के लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए लिया है।

केंप ने कहा कि हिंदू नव वर्ष आमतौर पर बसंत ऋतु की शुरुआत से जुड़ा होता है और अलग-अलग क्षेत्रों में इससे जुड़े रीति-रिवाज व परंपराएं भी अलग-अलग होती हैं। उन्होंने कहा कि हमारे राज्य में हिंदू-अमेरिकियों ने उल्लेखनीय योगदान दिया है।

उन्होंने कहा कि जॉर्जिया में हिंदुओं की बड़ी और बहुआयामी आबादी है। इसमें आस्था और प्रथाओं का एक खूबसूरत संगम देखने को मिलता है। हिंदू नव वर्ष उन हिंदू नागरिकों के लिए भी एक बहुत अहम अवसर है जो जॉर्जिया को अपना घर करते हैं।

जानकारी के अनुसार जॉर्जिया प्रांत में दो लाख से ज्यादा हिंदू-अमेरिकी निवास करते हैं। ब्रायन केंप ने इनकी सराहना करते हुए कहा कि इन परिवारों ने राज्य में जीवन की गुणवत्ता और हमारी साझा विरासत को आगे बढ़ाने में उल्लेखनीय योगदान दिए हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि इन परिवारों की धार्मिक परंपराओं ने जॉर्जिया की सांस्कृतिक विविधता को और समृद्ध किया है। हिंदू-अमेरिकी आबादी ने सामाजिक विकास के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण काम किया है और प्रांत को सकारात्मक दशा-दिशा प्रदान की है।