बिहार टु लंदनः माइनिंग की दुनिया के बेताज बादशाह अनिल अग्रवाल की ये कहानी आपको चौंका देगी

अनिल अग्रवाल ने बताया कि लंदन के अनजान माहौल में भी उनके माता-पिता के आशीर्वाद ने उनका संबल बढ़ाया। जब हम हीथ्रो हवाई अड्डे पर उतरे तो मैंने खुद को जैसे अलग दुनिया में पाया। अलग भाषा बोलने वाले विदेशी लोग, ठंडा, बारिश जैसा मौसम और ऊंची सफेद बिल्डिंग्स!

बिहार टु लंदनः माइनिंग की दुनिया के बेताज बादशाह अनिल अग्रवाल की ये कहानी आपको चौंका देगी

कहते हैं कि न कि अगर ठान लो तो कुछ भी मुमकिन है। इस कहावत की एक मिसाल हैं भारत (India) में माइनिंग की दुनिया का बड़ा नाम अनिल अग्रवाल (Anil Aggarwal)। अग्रवाल ने फेसबुक (Facebook) और ट्विटर (Twitter) पर अपने जिंदगी के इस महत्वपूर्ण पहलू के बारे में शेयर किया है। उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने रातोरात लंदन चले जाने का फैसला ले लिया और कैसे उनकी कंपनी वेदांता (Vedanta) भारत की पहली कंपनी बनी जो लंदन स्टॉक एक्सचेंज (London Stock Exchange) में लिस्ट हुई।

अनिल अग्रवाल ने अपनी सोशल मीडिया पोस्ट में बताया कि उनके अचानक लंदन जाने के फैसले से उनकी पत्नी किरण भी हैरान रह गईं। 

अनिल अग्रवाल ने अपने कहानी बताते हुए लिखा