ट्रम्प शासन में बर्खास्त हुए संघीय प्रॉसीक्यूटर भरारा अब निजी प्रैक्टिस करेंगे

प्रीत भरारा का जन्म भारत के पंजाब में स्थित फिरोजपुर में 1968 में हुई थी। उनके पिता सिख और माता हिंदू थीं। उनके माता-पिता साल 1970 में अमेरिका चले आए थे और 12 वर्ष की उम्र में उन्हें अमेरिका की नागरिकता प्राप्त हो गई थी। भरारा पंजीकृत डेमोक्रेट हैं लेकिन उन्हें कट्टर समर्थक नहीं माना जाता।

ट्रम्प शासन में बर्खास्त हुए संघीय प्रॉसीक्यूटर भरारा अब निजी प्रैक्टिस करेंगे

न्यूयॉर्क के दक्षिणी जिले के लिए पूर्व यूएस अटॉर्नी प्रीत भरारा निजी प्रैक्टिस शुरू करने वाले हैं। भारतीय मूल के अमेरिकी संघीय प्रॉसीक्यूटर भरारा कानूनी फर्म विल्मरहेल (WilmerHale) से पार्टनर के तौर पर जुड़ने जा रहे हैं। इस कंपनी को कई पूर्व सरकारी अधिकारियों के लिए अच्छी तरह से जुड़ी कानूनी फर्म माना जाता है। भरारा का निजी प्रैक्टिस में यह पहला कार्यकाल होगा क्योंकि ट्रम्प प्रशासन ने उन्हें 2017 में बर्खास्त कर दिया था, जब उन्होंने न्यूयॉर्क के दक्षिणी जिले के लिए अमेरिकी वकील के रूप में पद छोड़ने से इनकार कर दिया था।

भरारा ने एक बयान में कहा कि विल्मरहेल ने मुझे न केवल कानूनी उत्कृष्टता व अखंडता की अपनी प्रतिष्ठा, सफलता के ट्रैक रिकॉर्ड और विविधता को लेकर समर्पण ने बल्कि जन सेवा के लिए सम्मान, अर्थपूर्ण निशुल्क कार्यों को सहयोग ने भी समान रूप से प्रभावित किया। यह कंपनी उन लोकतांत्रिक मूल्यों और सिद्धांतों के लिए प्रतिबद्ध है जिनके लिए लड़ाई में मैंने अपना पूरा करियर समर्पित कर दिया।

विल्मरहेल में अपनी भूमिका को लेकर भरारा ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि मैं मुख्य रूप से सलाहकार की हैसियत से काम करूंगा और अदालत में क्लाइंट का प्रतिनिधित्व कम से कम करूंगा। उन्होंने कहा कि मेरी नई जॉब प्रोफाइल में पर्यावरण, सामाजिक और शासन से जुड़े मुद्दों पर ध्यान शामिल है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि कंपनी इस भूमिका के लिए प्रीत भरारा को कितना भुगतान करने वाली है।

प्रीत भरारा का जन्म भारत के पंजाब में स्थित फिरोजपुर में 1968 में हुआ था। उनके पिता सिख और माता हिंदू थीं। उनके माता-पिता साल 1970 में अमेरिका चले आए थे और 12 वर्ष की उम्र में उन्हें अमेरिका की नागरिकता प्राप्त हो गई थी। उल्लेखनीय है कि 15 मई 2009 को तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने प्रीत भरारा को साउथर्न डिस्ट्रिक्ट ऑफ न्यूयॉर्क के लिए यूएस अटॉर्नी के पद के लिए नामित किया था।

सीनेट ने उनके नामांकन पर एकमत से मुहर लगाई थी और 13 अगस्त 2009 को उन्होंने पद की शपथ ग्रहण की थी। उल्लेखनीय है कि सितंबर 2014 में जब यूएस अटॉर्नी जनरल एरिक होल्डर ने पद छोड़ने का संकेत दिया था तब भरारा को अगर यूएस अटॉर्नी जनरल के संभावित उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा था। बता दें कि भरारा एक पंजीकृत डेमोक्रेट हैं लेकिन उन्हें पार्टी का कट्टर समर्थक नहीं माना जाता है।