न्यू जर्सी में पहली धर्मार्थ फार्मेसी को मिली अनुमति, भारतीय मूल के शख्स की पहल

रितेश शाह मोनमोफ काउंटी में पांच फार्मेसी के मालिक हैं। उन्होंने हाल ही में अपनी छोटी बहन को खो दिया था, जिसके बाद उन्हें यह कदम उठाने की प्रेरणा मिली।

न्यू जर्सी में पहली धर्मार्थ फार्मेसी को मिली अनुमति, भारतीय मूल के शख्स की पहल

अमेरिका के न्यू जर्सी बोर्ड ऑफ फार्मेसी ने रितेश शाह चैरिटेबल फार्मेसी (RSCP) को कार्य करने की अनुमति दे दी है। यह न्यू जर्सी की पहली चैरिटेबल फार्मेसी है। नियामक प्रक्रिया में उठाए गए इस महत्वपूर्ण कदम से इस धर्मार्थ संगठन के लिए बिना बीमा वाले और वंचित रोगियों को निशुल्क दवाएं वितरित करने का काम शुरू करने का रास्ता प्रशस्त हुआ है। बोर्ड ने यह अनुमति बीती 23 फरवरी को दी थी।

रितेश शाह ने कहा कि मैंने कई वर्षों तक अपनी स्थानीय फार्मेसी के जरिए ऐसे मरीजों की सहायता की जो इलाज का खर्च नहीं उठा सकते थे। 

आरएससीपी की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार संगठन का इरादा रेड बैंक के 224 श्रूसबरी एवेन्यू में अप्रैल से काम शुरू करने का है। यहां दवाओं के मुफ्त वितरण के साथ सामुदायिक भागीदारों के लिए जरूरतमंद लोगों के साथ जुड़ने और सामाजिक सेवाएं प्रदान करने के लिए केंद्र की तरह काम करेगा। छात्रों का टीकाकरण करने के साथ स्थानीय स्कूलों के लिए भी काम होगा।