दुनिया के सबसे खुशहाल देश के 'वासी' बनना चाहते हैं? ​पढ़िए, खुश होइए

फिनलैंड भारत के सबसे संभावित तकनीकी प्रतिभाओं को भी आकर्षित करना चाहता है और उन्हें फिनलैंड में काम करने, पढ़ाई करने और रहने के अवसरों के माध्यम से प्रोत्साहित करना चाहता है। उन्हें स्टार्टअप खड़ा करने के लिए मदद की जाएगी।

दुनिया के सबसे खुशहाल देश के 'वासी' बनना चाहते हैं? ​पढ़िए, खुश होइए

अगर आप दुनिया के सबसे खुशहाल देश में काम करने और रहने के लिए जाना चाहते हैं तो इस खबर को ध्यान से पढ़िएगा। चार साल से लगातार दुनिया का सबसे खुशहाल देश का तमगा पा रहा फिनलैंड भारत समेत दुनिया से 30,000 ऐसे कामगारों की तलाश में है जो खुद में एक टेलैंट रखते हैं। फिनलैंड का कहना है कि वह ऐसे टेलैंट की तलाश में है, जिसे फिनलैंड में पढ़ने का मौका मिलेगा, नौकरी दी जाएगी और तो और स्टार्टअप खड़ा करने के लिए मदद की जाएगी।

फिनलैंड सरकार के कार्यक्रम 2019-2023 के आधार पर देश का लक्ष्य फिनलैंड में 30,000 कुशल प्रतिभाएं दुनिया से लेकर आना है Photo by Tapio Haaja / Unsplash

फिनलैंड ने इस योजना का नाम 'फ्यूचर इज मेड इन फिनलैंड' रखा है जिसको पूरा करने का लक्ष्य साल 2023 निर्धारित किया गया है। फिनलैंड प्रशासन का कहना है कि योजना का उद्देश्य प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य तकनीक, डिजिटलीकरण और अन्य उच्च विकास क्षेत्रों में वैश्विक प्रतिभा को आकर्षित करना है।