इटर्नल गांधी संग्रहालय को मिले लाखों डॉलर, दो साल में बनकर तैयार हो जाएगा

इस संग्रहालय का निर्माण दक्षिण-पश्चिमी ह्यूस्टन में तीन एकड़ जमीन पर किया जा रहा है। इसके निर्माण के लिए प्रस्तावित बजट 65 लाख अमेरिकी डॉलर का है और अब तक 29 लाख डॉलर जुटाए जा चुके हैं। यह अनुदान महात्मा गांधी को समर्पित अमेरिका के पहले संग्रहालय को जीवंत बनाएगा।

इटर्नल गांधी संग्रहालय को मिले लाखों डॉलर, दो साल में बनकर तैयार हो जाएगा

भारत के स्वतंत्रता संग्राम को अलग दिशा देने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की विरासत और आदर्शों को प्रोत्साहित व संरक्षित करने के लिए अमेरिका के ह्यूस्टन में बनाए गए 'इटर्नल गांधी म्यूजियम' को चार लाख 75 हजार डॉलर का अनुदान मिला है। अमेरिका के पहले ऐसे संग्रहालय को यह अनुदान राशि 'फोर्ट बेंड काउंटी' की ओर से 'अमेरिकन रेस्क्यू प्लान' के तहत दी गई है।

इस अनुदान का एलान फोर्ट बेंड काउंटी के भारतीय अमेरिकी न्यायाधीश केपी जॉर्ज ने 21 दिसंबर को काउंटी आयुक्तों के साथ किया था। ह्यूस्टन में स्थित इस संग्रहालय के साल 2023 में खुलने की संभावना है। इस संग्रहालय का शिलान्यास इसी साल तीन जुलाई को किया गया था। कांग्रेस के सदस्य अल ग्रीन इसमें मुख्य अतिथि थे और कई अन्य गणमान्य हस्तियों ने भी इसमें शिरकत की थी।