दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद ने पृत्विक से कहा, मुस्कुराते रहो, छोटे योद्धा

पृत्विक को उनके पिता द्वारा दान किया गया गुर्दा प्रत्यारोपण होना था, लेकिन यात्रा प्रतिबंधों ने उनके पिता को यहां पहुंचने से रोक दिया, दूसरी तरफ उनकी मां को इलाज का खर्च उठाने में कठिनाई हो रही है।

दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद ने पृत्विक से कहा,  मुस्कुराते रहो, छोटे योद्धा
15 वर्षीय पृत्विक सिंहद अस्पताल के बेड पर। 

संयुक्त अरब अमीरात के उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने किडनी फेल्योर से पीड़ित एक छात्र को एक पत्र और फूलों का गुलदस्ता भेजा है। भारत के 15 वर्षीय पृत्विक सिंहद लंबे समय से गुर्दे (किडनी) की विफलता से पीड़ित हैं और गुर्दा प्रत्यारोपण ऑपरेशन का इंतजार कर रहे हैं।

दुबई के शासक मोहम्मद बिन राशिद द्वारा पृत्विक सिंहद को लिखा गया पत्र।

पृत्विक को उनके पिता द्वारा दान किया गया गुर्दा प्रत्यारोपण होना था, लेकिन यात्रा प्रतिबंधों ने उनके पिता को यहां पहुंचने से रोक दिया, दूसरी तरफ उनकी मां को इलाज का खर्च उठाने में कठिनाई हो रही है।

संयुक्त अरब अमीरात के उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम। 

मोहम्मद बिन राशिद ने अपने संदेश में लिखा, "मेरे प्रिय पृत्विक के लिए, यह मेरी ओर से आपके लिए है और मैं यह कहना चाहता हूं कि आप यहां घर पर हैं और आप सुरक्षित हाथों में हैं, और मैं अल्लाह से इबादत करूंगा कि आप जल्द स्वस्थ हों। मुस्कुराते रहो, छोटे योद्धा।"