AAPI को अधिक जवाबदेह व जिम्मेदार बनाएंगे डॉ. कोली, ये है उनका 'मिशन'

पूर्व में डॉ. रवि कोली AAPI की आईटी समिति के अध्यक्ष, कन्वेंशन एवी के सह अध्यक्ष व जीएमई लिएजन के तौर पर और कई समितियों में सेवाएं दे चुके हैं। आंध्र प्रदेश के रंगराया मेडिकल कॉलेज से स्नातक करने वाले डॉ. कोली इसके एलुम्नाई चैप्टर के अध्यक्ष बने थे जिसके 500 से अधिक सक्रिय सदस्य हैं।

AAPI को अधिक जवाबदेह व जिम्मेदार बनाएंगे डॉ. कोली, ये है उनका 'मिशन'

'अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ फिजिशियन ऑफ इंडियन ओरिजिन' (AAPI) के अगले अध्यक्ष डॉ. रवि कोली ने शपथ ली है कि वह संगठन को इसके मूल मिशन पर एक पारदर्शी, जवाबदेह और जिम्मेदार तरीके पर केंद्रित रखेंगे। कोली 25 जून को होने वाले 40वें वार्षिक सम्मेलन में AAPI के अध्यक्ष का पद ग्रहण करेंगे। इस सम्मेलन का आयोजन टेक्सास के सैन एंटोनियो में किया जाएगा।

AAPI के साथ डॉ. कोली का सफर दो दशक से अधिक समय पहले शुरू हुआ था। 

कोली ने कहा कि मैं AAPI को इसके मूल मिशन पर केंद्रित रखने के लिए पूरी मेहनत से काम करूंगा और इसकी सभी गतिविधियां और कारोबार को एक पारदर्शी, जवाबदेह और जिम्मेदार तरीके से आयोजित की जाएंगी। उल्लेखनीय है कि डॉ. रवि कोली एक बोर्ड प्रमाणित साइकिएट्रिस्ट हैं और उन्हें एडिक्शन, जेरियाट्रिक्स और फॉरेंसिक साइकिएट्री के क्षेत्र में विशेषज्ञता प्राप्त है।

आंध्र प्रदेश के रंगराया मेडिकल कॉलेज से स्नातक करने वाले डॉ. कोली इसके एलुम्नाई चैप्टर के अध्यक्ष बने थे जिसके 500 से अधिक सक्रिय सदस्य हैं। 

वर्तमान में साइथवेस्टर्न पेंसिल्वेनिया ह्यूमन सर्विसेज के साइकियाट्रिक मेडिकल डायरेक्टर के तौर पर सेवाएं दे रहे हैं। इससे पहले वह यूनिवर्सिटी ऑफ पिट्सबर्ग और वेस्ट वर्जीनिया यूनिवर्सिटी में साइकिएट्री के क्लिनिकल असिस्टेंट प्रोफेसर रह चुके हैं। कोली को हेल्थकेयर के क्षेत्र में चार दशक से अधिक का अनुभव है। वह वाशिंगटन हेल्थ सिस्टम ग्रीन और वाशिंगटन हॉस्पिटल से भी जुड़े हैं।

AAPI के साथ डॉ. कोली का सफर दो दशक से अधिक समय पहले शुरू हुआ था। उनके मित्र डॉ. प्रबीर मलिक और डॉ. कृष्णा कासी ने सबसे पहले स्थानीय AAPI चैप्टर से उनका परिचय कराया था। इसके बाद से ही वह इसकी गतिविधियों में लगातार शामिल होते रहे। शुरुआत में उन्होंने स्थानीय चैप्टर की वेबसाइट को बेहतर करने के लिए अपने वेब डिजाइनिंग के स्किल का उपयोग किया।

आंध्र प्रदेश के रंगराया मेडिकल कॉलेज से स्नातक करने वाले डॉ. कोली इसके एलुम्नाई चैप्टर के अध्यक्ष बने थे जिसके 500 से अधिक सक्रिय सदस्य हैं। इसके बाद उन्हें अमेरिका के तेलुगु मेडिकल ग्रेजुएट्स का अध्यक्ष भी चुना गया था। पूर्व में डॉ. रवि कोली AAPI की आईटी समिति के अध्यक्ष, कन्वेंशन एवी के सह अध्यक्ष व जीएमई लिएजन के तौर पर और कई समितियों में सेवाएं दे चुके हैं।