दिल्ली में UNHCR दफ्तर के बाहर अफगान शरणार्थियों ने किया प्रदर्शन

विरोध प्रदर्शन में बच्चे, बूढ़े, महिलाएं और पुरुष शामिल थे। प्रदर्शन के दौरान बच्चे 'वी वांट फ्यूचर' का नारा लगा रहे थे। प्रदर्शन के दौरान उन्होंने कई मांगें भी रखीं।

दिल्ली में UNHCR दफ्तर के बाहर अफगान शरणार्थियों ने किया प्रदर्शन

अफगानिस्तान पर 20 साल बाद फिर से तालिबान का शासन शुरू हो गया है। तालिबान का कब्जा होते ही लोग वहां से किसी भी कीमत पर निकलने की कोशिश में जुट गए हैं। हजारों लोगों को वहां से अब तक निकाला भी जा चुका है। इस बीच दिल्ली में रह रहे अफगान शरणार्थियों ने संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त कार्यालय (UNHCR) के सामने प्रदर्शन किया।

मंडी हाउस इलाके में एक प्रदर्शनकारी को प्रदर्शन स्थल की ओर जाने के लिए कहती सुरक्षाकर्मी। 

इस विरोध प्रदर्शन में बच्चे, बूढ़े, महिलाएं और पुरुष शामिल हैं। बच्चे 'वी वांट फ्यूचर' का नारा लगा रहे हैं। अफगानियों की मांग है कि उन्हें शरणार्थियों का दर्जा दिया जाए। उन्हें रोजगार और उनके रहने की व्यवस्था की जाए। दूसरी ओर अफगानिस्तान में तालिबान क्रूरता की तस्वीरें धीरे-धीरे सामने आने लगी हैं और वहां अफरा-तफरी का माहौल है।

नई दिल्ली स्थित मंडी हाउस पर भी अफगानिस्तान में चल रहे घटनाक्रम के खिलाफ और अफगान शरणार्थियों के समर्थन में प्रदर्शन किया गया। इस प्रदर्शन में कुछ नागरिक संगठनों के अलावा मानवाधिकार कार्यकर्ता भी शामिल हुए।
प्रदर्शन में शामिल बच्चियां। 

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के नागरिकों के लिए बड़ी मुश्किलें खड़ी हो गई हैं। एक तो अफगानिस्तान से बाहर निकलने पर सभी आमादा है और उसके बाद अगर किसी देश पहुंच भी गए तो वहां अपने अच्छे जीवन के लिए दुनिया से गुहार लगा रहे हैं। राजधानी दिल्ली में पिछले कई दिनों से किसी देश व संगठनों के कार्यालय के बाहर अफगान नागरिक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

अफगानिस्तान से आए लोगों की प्रमुख मांगे हैं...शरणार्थी कार्ड, तीसरे देश में पुनर्वास के विकल्प और अंतरराष्ट्रीय निकाय और भारत सरकार से सुरक्षा मिले।