विदेशी सरजमीं पर देसी फंडे से कर रहा था धोखाधड़ी, मिली यह सजा

आरोपी ने शुरुआत में पीड़ित निवेशकों को यह दर्शाया कि उनके पैसे का इस्तेमाल व्यापार से संबंधित कई खर्चों के लिए हो रहा है। उसने पीड़ितों को कहा कि उनके पैसों से भारत में कपड़ा तैयार किया जा रहा है।

विदेशी सरजमीं पर देसी फंडे से कर रहा था धोखाधड़ी, मिली यह सजा
Photo by Grant Durr / Unsplash

व्यापार में धोखा देना भारत में आम बात है, लेकिन विदेशी सरजमीं पर देसी फंडा अपनाना भी अब आम होता जा रहा है। हाल ही में धोखाधड़ी का एक मामला सामने आया है जिसमें ​48 साल के मनीष सिंह नाम के शख्स को वर्जीनिया की पूर्वी जिला कोर्ट ने 40 महीने की सजा सुनाई है।

Teachers listening
मनीष ने साल 2016 में एक कपल के साथ एग्रीमेंट किया जिसके मुता​बिक वे मिलकर उच्च स्तर के कपड़े को खरीदने और बेचने का व्यापार करेंगे। Photo by Saúl Bucio / Unsplash

पूरा मामला ये है कि मैरीलैंड में रहने वाले मनीष सिंह पर लगभग 1.26 मिलियन डॉलर (करीब 9 करोड़ 35 लाख रुपये) की धोखाधड़ी के आरोप तय हुए हैं। सिंह ने पहले एक निवेश योजना तैयार की और उस योजना के माध्यम से एक कपल के साथ धोखाधड़ी की। सिंह ने साल 2016 में एक कपल के साथ एग्रीमेंट किया जिसके मुताबिक वह मिलकर उच्च स्तर के कपड़े को खरीदने और बेचने का व्यापार करेंगे। इस एग्रीमेंट के अनुसार कपल को बिजनेस के लिए पैसा इकट्ठा करना था और मनीष ने उन्हें कपड़े से जुड़े अपने अनुभव और संपर्क को साझा करने का भरोसा दिया था।