डेमोक्रेटिक सांसद ने उठाई आवाज, 2,50 लाख डॉक्यूमेंट ड्रीमर्स को मिलेगा स्थायी निवास

भारतीय अमेरिकी कांग्रेसी डॉ.अमी बेरा ने कहा कि स्थायी निवास का सपने देखने वालों की परवरिश अमेरिका में हुई है और वे इस देश को अपने घर के रूप में जानते हैं। फिर भी उन्हें इमीग्रेशन सिस्टम में बैकलॉग के कारण 21 वर्ष की आयु तक आत्म-निर्वासन होने का डर है।

डेमोक्रेटिक सांसद ने उठाई आवाज, 2,50 लाख डॉक्यूमेंट ड्रीमर्स को मिलेगा स्थायी निवास
Photo by Samuel Branch / Unsplash

अमेरिका में नागरिकता पाने का सपना देख रहे 2,50 लाख से अधिक युवाओं के लिए राहत भरी खबर है। अमेरिका के डेमोक्रेटिक सांसदों के एक समूह ने इनके नागरिकता के मार्ग को प्रशस्त करने को लेकर अपना समर्थन दिया है। बता दें​ कि इनमें से अधिकतर भारतीय अमेरिकी हैं।

#Boys #Girls #Forest
कांग्रेस महिला रॉस ने कहा कि स्थायी निवास का सपना देखने वाले ये युवा अमेरिका को बेहतरीन ढंग से प्रतिनिधित्व करते हैं। Photo by Kevin Valerio / Unsplash

कैलिफोर्निया की सीनेटर एलेक्स पाडिला और कांग्रेस महिला डेबोरा रॉस के नेतृत्व में सांसदों ने संयुक्त राज्य की सीनेट और प्रतिनिधि सभा में अपने सहयोगियों से अमेरिका के बाल अधिनियम को पारित करने का आग्रह किया है। इस अधिनियम की मदद से कानूनी रूप से देश में रह रहे प्रवासियों के बच्चों को 21 की उम्र के बाद रहने की अनुमति दी जाएगी जिन्हें बैकलॉग के कारण अभी तक ग्रीन कार्ड नहीं मिला है।

दरअसल स्थायी निवास का सपना देखने वाले अनुमानित 2,50 लाख से अधिक यह युवा कानूनी रूप से अमेरिका में पले-बढ़े लेकिन जब वे 21 वर्ष के हो गए तो उन्हें निर्वासन का डर सता रहा है। कैलिफोर्निया के सीनेटर एलेक्स पाडिला ने कहा कि इन युवाओं के लिए 21 साल का होने का मतलब असंभव विकल्प का सामना करना है। या तो ये अपने परिवार को छोड़ दें और किसी ऐसे ऐसे देश में आत्म-प्रत्यावर्तन करें जिसे वह जानते भी नहीं या अमेरिका में बिना दस्तावेज के रहने को मजबूर हो जाएं।

भारतीय अमेरिकी कांग्रेसी डॉ.अमी बेरा ने कहा कि स्थायी निवास का सपने देखने वालों की परवरिश अमेरिका में हुई है और वे इस देश को अपने घर के रूप में जानते हैं। फिर भी उन्हें इमीग्रेशन सिस्टम में बैकलॉग के कारण 21 वर्ष की आयु तक आत्म-निर्वासन होने का डर है। इन युवाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए कांग्रेस को अमेरिका के बाल अधिनियम को पारित करना होगा।

कांग्रेस महिला रॉस ने कहा कि स्थायी निवास का सपना देखने वाले ये युवा अमेरिका को बेहतरीन ढंग से प्रतिनिधित्व करते हैं। आइए उन्हें उस देश में रहने का मौका दें जिससे वे प्यार करते हैं और अपना घर कहते हैं।