पहचानो इस शख्स को, क्रिप्टो प्लेटफॉर्म के जरिए अरबों डॉलर की धोखाधड़ी का आरोप

कुंभानी पर वायर फ्रॉड, कमोडिटी की कीमतों में हेरफेर की साजिश, बिना लाइसेंस वाले पैसा भेजने के कारोबार के संचालन और अंतरराष्ट्रीय मनी लॉन्ड्रिंग की साजिश का आरोप लगाया गया है। यदि उसे सभी मामलों में दोषी ठहराया जाता है तो उसे अधिकतम 70 साल की जेल की सजा का सामना करना पड़ता है।

पहचानो इस शख्स को, क्रिप्टो प्लेटफॉर्म के जरिए अरबों डॉलर की धोखाधड़ी का आरोप

निवेश और क्रिप्टो ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की स्थापना करने वाले भारतीय मूल के एक शख्स पर निवेशकों को गुमराह करने और 2.4 अरब डॉलर (लगभग 180 अरब 75 करोड़ 55 लाख 20 हजार रुपये) की धोखाधड़ी करने का आरोप लगा है। आरोप है कि क्रिप्टो एक्सचेंज बिटकनेक्ट (BitConnect) के संस्थापक सतीश कुंभानी ने कंपनी के 'उधार कार्यक्रम' के जरिए पोंजी योजना चलाई और निवेशकों को धोखा दिया।

आरोप है कि कुंभानी ने नए निवेशकों के पैसे पुराने निवेशकों को देकर पोंजी योजना चलाई। कुंभानी और उनके साथ इस साजिश में शामिल अन्य लोगों ने निवेशकों के साथ लगभग 2.4 अरब डॉलर की धोखाधड़ी की। आरोप है कि गुजरात के हेमल से आने वाले कुंभानी ने अपने साथियों के साथ बाजार में हेरफेर की और बिटकनेक्ट के लिए नकली बाजार मांग तैयार की।