क्रेगीबर्न गुरुद्वारे ने कहा, हमने नहीं दी थी भारत विरोधी पोस्टर लगाने की अनुमति

गुरुद्वारा के प्रवक्ता गुरविंदर सिंह ने इस मामले में गुरुद्वारे का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि हमारे चार प्रवेश द्वारों में से एक पर इस तरह पोस्टर लगाए गए थे। ये पोस्टर काफी विशाल थे और इन्हें हाईवे से भी देखा जा सकता था। लेकिन ये बैनर गुरुद्वारा या प्रबंधन की ओर से समर्थित नहीं थे।

क्रेगीबर्न गुरुद्वारे ने कहा, हमने नहीं दी थी भारत विरोधी पोस्टर लगाने की अनुमति

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में क्रेगीबर्न में स्थित गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा ने पुष्टि की है कि इसके प्रवेश द्वार पर लगाए गए आपत्तिजनक बैनर की अनुमति गुरुद्वारा प्रबंधन की ओर से नहीं दी गई थी। यहां लगाए गए बड़े-बड़े भारत विरोधी पोस्टर और खालिस्तान के लोगो वाले ध्वजों ने ऑस्ट्रेलिया में भारतीय समुदाय के बीच आक्रोश उत्पन्न कर दिया है।

इस मामले में पुलिस के पास एक शिकायत दर्ज कराई गई है और प्रभारी मंत्री और स्थानीय सांसदों को पत्र भी लिखा गया है।

इन पोस्टर में पंजाबी अभिनेता और कार्यकर्ता दीप सिद्धू की तस्वीर लगी हुई थी। इन पर लिखा था कि 'भारत में सिख मारे जाते हैं' और 'हिंदू फासीवाद को खत्म करो'। इस पर सोशल मीडिया पर तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली। लोगों का गुस्सा इस बात पर है कि धार्मिक स्थल को उग्रवादी विचार प्रसारित करने का जरिया बनाया जा रहा है।