Skip to content

कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है, आराम से उड़कर जाइए सिंगापुर

भारत और इंडोनेशिया के यात्रियों के लिए सिंगापुर आने पर क्वारंटीन में जाने की शर्त नहीं होगी। उन्हें यहां आने पर प्रस्थान से अधिकतम दो दिन पुरानी निगेटिव आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट पेश करनी होगी। लेकिन यहां पहुंचने के बाद आरटी-पीसीआर जांच करवानी होगी।

Photo by Joshua Ang / Unsplash

सिंगापुर आगामी 29 नवंबर से भारत और इंडोनेशिया के हवाई यात्रियों को क्वांरटीन मुक्त यात्रा की अनुमति देने की तैयारी कर रहा है। हालांकि इसके लिए यात्रियों का कोविड वैक्सीन का पूर्ण टीकाकरण अनिवार्य होगा। सिंगापुर अगले महीने की शुरुआत में कुछ और देशों को भी इस सूची में शामिल करेगा। कोरोना महामारी से प्रभावित रहे इस देश की योजना एक बार फिर से देश को अंतरराष्ट्रीय एविएशन हब का दर्जा दिलाने की है।

भारत अब सिंगापुर के प्रमाणपत्र को मान्यता दे रहा है। इसका मतलब है कि सिंगापुर से भारत जाने वाले पूर्ण टीकारण करवा चुके लोगों को वहां जाने पर क्वारंटीन में रहने की जरूरत नहीं है। Photo by Mat Napo / Unsplash

सिंगापुर ने इसके लिए वैक्सीनेटेड ट्रैवेल लेन (वीटीएल) कार्यक्रम तैयार किया है। फिलहाल इसकी सूची में कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी समेत 13 देश शामिल हैं। 29 नवंबर से भारत और इंडोनेशिया से आने वाले यात्रियों को भी क्वारंटीन मुक्त यात्रा सुविधा दी जाने लगेगी। इसके अलावा कतर, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से आने वाले यात्रियों को छह दिसंबर से अनुमति देने की योजना है।

This post is for paying subscribers only

Subscribe

Already have an account? Log in

Latest